राज्यपाल से बोले नरोत्तम- ये राजा साहब, टण्डन ने कहा हैं, मैं इन्हें जानता हूं


भोपाल । प्रदेश के नवागत राज्यपाल लालजी टंडन ने राजभवन में एक समारोह में राज्यपाल पद की शपथ ली। उच्च न्यायालय के कार्यकारी मुख्य न्यायाधीश जस्टिस रविशंकर झा ने उन्हें पद और गोपनीयता की शपथ दिलाई। शपथ ग्रहण समारोह राजभवन परिसर में प्रात: 11 बजे हुआ। मुख्य सचिव एसआर मोहंती ने समारोह की कार्यवाही का संचालन किया। राज्यपाल लालजी टंडन को शपथ ग्रहण के बाद गार्ड ऑफ आनर दिया गया। श्री टंडन ने सलामी गारद का निरीक्षण भी किया। समारोह में राज्यपाल के परिवार के सदस्य उपस्थित थे। शपथ ग्रहण समारोह में दलगत राजनीति से अलग हटकर पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह, नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव, पूर्व मंत्री नरोत्तम मिश्रा एक साथ बैठे थे। नरोत्तम ने दिग्विजय का राज्यपाल से परिचय करवाते हुए कहा कि ये राजा साहब हैं। इस पर टंडन ने मुस्कराते हुए कहा कि मैं इन्हें जानता हूं। सिंह ने सूत की माला पहना कर राज्यपाल का स्वागत किया। मिश्रा ने सतना सांसद गणेश सिंह और भोपाल सांसद साध्वी प्रज्ञा को भी राज्यपाल से मिलवाया। पूर्व मुख्यमंत्री कैलाश जोशी व्हील चेयर पर पहुंचे। दिग्विजय ने उठकर उनका अभिवादन किया। पहले भाजपा के कई नेता टंडन से मिले। उसके बाद प्रदेश के मंत्री उनसे मिले। इनमें आरिफ अकील, गोविंद सिंह, जयवर्धन सिंह, पीसी शर्मा, तुलसी सिलावट, सुखदेव पांसे, कमलेश्वर पटेल आदि शामिल थे।



शपथ ग्रहण समारोह में मुख्यमंत्री  कमलनाथ, विधान सभा अध्यक्ष  एनपी प्रजापति, मध्यप्रदेश के लोकायुक्त जस्टिस नरेश गुप्ता, सांसद प्रज्ञा सिंह ठाकुर, महापौर आलोक शर्मा, पूर्व मुख्यमंत्री द्वय दिग्विजय सिंह, कैलाश जोशी, नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव, पुलिस महानिदेशक वीके सिंह, उच्च न्यायालय के न्यायाधीश, मंत्री-मंडल के सदस्य, विधायकगण, पार्षद, विश्वविद्यालयों के कुलपति, सेना, पुलिस और प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारी, विभिन्न धार्मिक, राजनैतिक और सामाजिक संगठनों के प्रतिनिधि और पत्रकार उपस्थित थे।



 


Comments

Popular posts from this blog

मंत्री भदौरिया पर भारी अपेक्स बैंक का प्रभारी अधिकारी

"गंगाराम" की जान के दुश्मन बने "रायसेन कलेक्टर"

भोपाल, उज्जैन और इंदौर में फिर बढ़ाया लॉकडाउन