शहीद का अपमान कर चुकी सांसद जनमत का कर रहीं अपमान

                                                                                भाजपा प्रज्ञा ठाकुर पर अपना रुख स्पष्ट करे      


भोपाल । मध्यप्रदेश कांग्रेस कमेटी मीडिया विभाग की अध्यक्षा शोभा ओझा ने सांसद प्रज्ञा ठाकुर के उस बयान को निंदनीय बताया है, जिसमें उन्होंने कहा है कि "हम नाली और शौचालय साफ कराने के लिए सांसद नहीं बने हैं।" ओझा ने कहा की जनता की समस्याओं और मुद्दों को भारतीय जनता पार्टी और उनके सांसद कितनी तवज्जो देते हैं, प्रज्ञा ठाकुर के बयान से यह बात पूरी तरह से स्पष्ट हो गई है। ज्ञात रहे कि जनमत का इस तरह अपमान करने वाली, यह वही प्रज्ञा ठाकुर हैं, जिन्होंने पहले भी शहीदों का अपमान और गोडसे का महिमामंडन कर अपनी वास्तविक सोच और गंभीरता दर्शाई है। उपरोक्त विचार व्यक्त करते हुए  ओझा ने आगे कहा कि जिस स्वच्छ भारत अभियान को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जोर-शोर से अपने "फ्लैगशिप" अभियान की तरह चलाया और उसे अपनी सरकार का एक प्रमुख क्रांतिकारी कदम बताया, उसी कदम की गंभीरता की पोल, उनके सांसद ने ही खोल दी है, साफ है कि भारतीय जनता पार्टी केवल नारों और जुमलों में यकीन रखती है, जनता की भलाई और विकास जैसे मुद्दों से उसका दूर-दूर तक कोई सरोकार नहीं है। श्रीमती ओझा ने अपने बयान में आगे कहा की मोदी जी द्वारा यह कहे जाने के बाद भी कि "वह प्रज्ञा ठाकुर को कभी अपने मन से माफ नहीं कर पाएंगे।" उन पर आज तक कोई कार्यवाही भाजपा ने नहीं की, यह उसी का परिणाम है कि सांसद प्रज्ञा ठाकुर सहित अन्य भाजपा नेता भी पूरी तरह से बेलगाम हैं और वे लगातार जनमत का अपमान करते हुए जनता को नीचा दिखा रहे हैं। ओझा ने कहा कि यदि प्रधानमंत्री  मोदी और भाजपा, जनहित से जुड़े मुद्दों और अपने सांसदों या नेताओं द्वारा दिए जा रहे अनर्गल बयानों के प्रति जरा भी गंभीर हैं तो उन्हें तत्काल साध्वी प्रज्ञा ठाकुर जैसे लोगों पर कठोर कार्रवाई करना चाहिए, यदि वे ऐसा नहीं करते हैं तो उन्हें जनता के सामने, इस मुद्दे पर अपनी पार्टी का पक्ष और रुख स्पष्ट रूप से सार्वजनिक करना चाहिए।


Comments

Popular posts from this blog

मंत्री भदौरिया पर भारी अपेक्स बैंक का प्रभारी अधिकारी

"गंगाराम" की जान के दुश्मन बने "रायसेन कलेक्टर"

भोपाल, उज्जैन और इंदौर में फिर बढ़ाया लॉकडाउन