Skip to main content

भावनात्मक दृश्य की शूटिंग के दौरान मेरी वास्तविक जीवन की भावनाएं सामने आ जाती हैं


सोनी सब  के बालवीर रिटर्न्स में दोहरी भूमिका निभा रहे श्रीधर वत्सर से बातचीत


मुम्बई। सोनी सब  के बालवीर रिटर्न्स में दोहरी भूमिका निभा रहे श्रीधर वत्सर से बातचीत में कई पहलुओं का खुलासा हुआ है। प्रस्तुत है बातचीत के अंश....


सवाल : सोनी सब  के बालवीर रिटर्न्स का हिस्सा बनने के लिए आप कितने उत्साहित थे?


उत्तर : मैं पहले भी बालवीर का हिस्सा रह चुका हूं और जब मुझे प्रोडक्शन हाउस द्वारा फिर से बालवीर रिटर्न्स के लिए संपर्क किया गया, तो यह वैसा ही था जैसे मैं एक मिनी वेकेशन के बाद वापस लौट आया हूं। मैं बालवीर की काल्पनिक दुनिया में फिर से गोता लगाने के लिए रोमांचित हूँ जो बेहतरीन ग्राफिक्स के साथ वापस लौटा है और जिसने मुझे काल लोक और वीर लोक की भव्य दुनिया से परिचित कराया। बालवीर रिटर्न्स बालवीर की यात्रा का एक पूर्ण मेकओवर है जहाँ दर्शकों को नए किरदारों और उनके उद्देश्यों से परिचित कराया जाता है। कहानी के आगे बढ़ने के साथ ही बालवीर भी बड़ा हुआ है और इसे देखने वाले दर्शक भी बड़े हुए हैं।


सवाल : डूबा डूबा और तौबा तौबा की दोहरी भूमिका निभाना कितना चुनौतीपूर्ण है?


उत्तर : यह काफी चुनौतीपूर्ण है क्योंकि दोनों पात्र अलग-अलग हैं और कहानी में अलग-अलग उद्देश्यों की पूर्ति करते हैं, लेकिन साथ ही उनमें एक बात कॉमन है जोकि उनकी मासूमियत है। कई बार डूबा डूबा की भूमिका में भावनात्मक दृश्य की शूटिंग के दौरान मेरी वास्तविक जीवन की भावनाएं सामने आ जाती हैं। लेकिन एक अभिनेता के रूप में, मैं जल्द ही दोनों किरदारों में स्विच करने में सक्षम हूं। मैंने हमेशा तौबा –तौबा के चरित्र को निभाने का आनंद लिया है क्योंकि वह बेहद शरारती है लेकिन बालवीर रिटर्न्स के साथ, मुझे डूबा डूबा का चरित्र भी काफी दिलचस्प लगा है। डूबा-डूबा में कुछ मज़ेदार तकियाकलाम हैं जैसे 'समझे के नहीं' और इसके साथ ही उसका बदला हुआ रूप भी कुछ ऐसा है जो शो को दूसरे लेवल पर ले जाता है। 


सवाल : कलाकारों और क्रू के साथ बालवीर रिटर्न्स के सेट पर आपका अनुभव अब तक कैसा रहा है?


उत्तर : मैं वास्तव में सेट पर काफी एन्‍जॉय करता हूं। मेरा देव के साथ पहले से ही एक अच्छा रिश्ता है, क्योंकि हम दोनों ने बालवीर में पहले भी एक साथ काम किया है। हालांकि, सभी कलाकार और तकनीशियन दल के सदस्‍य काफी दोस्ताना हैं और ये सभी अद्भुत एक्टर्स हैं। आदित्य (भयमार) और अतुल (जबदाली) जैसे कलाकार मेरे अच्छे दोस्त हैं और अद्भुत दोस्त होने के अलावा, ये दोनों बेहद प्रतिभाशाली कलाकार भी हैं। मैंने बालवीर रिटर्न्स के पहले एपिसोड को देखा था, इसमें मैं पवित्रा (तिमांसा) के प्रदर्शन से व्यक्तिगत रूप से दंग रह गया था; वे एक श्रेष्ठ अदाकारा हैं। जिस तरह से हर कोई अपने किरदारों में डूब जाता है, वह बहुत प्रभावशाली है।


सवाल : आपके द्वारा पहले किए गए किसी भी शो से बालवीर रिटर्न्‍स अलग कैसे है?


उत्तर : बालवीर रिटर्न्स, एक फैंटेसी शो होने के नाते मेरे द्वारा किए गए दूसरे सभी शोज से बिलकुल अलग है। यह फैंटेसी और असली दुनिया का एक परफेक्ट मिश्रण है। इस शो को पूरा परिवार एक साथ बैठ कर देख सकता है। हालांकि छोटे बच्चों को यह बेहद पसंद आता है। साथ ही उन्हें काफी अच्छी बातों के लिए प्रेरित भी करता है। जब भी मैं बाहर जाता हूं तो यह काफी खूबसूरत एहसास होता है कि बच्चे मुझे मेरे किरदार से पहचानते हैं और मैं वास्तव में उनके ईमानदार विचारों की प्रशंसा करता हूं। यह बात मुझे बेहद खुशी देती है कि ये बच्चे किसी दिन बड़े हो जाएंगे और बालवीर रिटर्न्स के बारे में बात करेंगे । इससे जुड़ी सभी यादों को याद करते हुए वे इसे अपने बचपन के पसंदीदा शो के रूप में याद करेंगे ।


सवाल : आप 19 सालों से मनोरंजन उद्योग का हिस्सा रहे हैं और आपने कई टीवी शो और फिल्मों में काम किया है। फिल्मों की तुलना में टेलीविजन में काम करना कितना अलग है?


उत्तर : मैंने एक थिएटर कलाकार के रूप में कई वर्षों तक काम किया है और पिछले 10 सालों से मैं फिल्म और टेलीविजन की दुनिया में पूरी तरह से सक्रिय हूँ। फिल्म और टीवी इंडस्ट्री एक दूसरे से काफी अलग है। फ़िल्में पूरी तरह से पूर्व नियोजित होती हैं और इनका शेड्यूल काफी आसान होता है क्योंकि इसमें दिन में 1-2 शॉट्स ही देने होते है, आप एक फिल्म की शूटिंग कर रहे होते हैं जो 2-3 घंटे लंबी होगी। हालांकि, टेलीविज़न इंडस्ट्री तेजी रफ्‍तार वाली है और काफी डिमांडिंग भी है क्योंकि इसमें आपको एक दैनिक शो की सभी जरूरतों को पूरा करना होता है। टीवी इंडस्ट्री में इंसान को काफी फुर्तीला और त्वरित होना चाहिए और हर दिन एक नई चुनौती के लिए तैयार रहना चाहिए।


सवाल : सोनी सब  के साथ जुड़कर कैसा लगता है?


उत्तर : सोनी सब ने बालवीर के साथ और अब बालवीर रिटर्न्स के साथ मुझे देश में और अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर काफी पहचान दिलाई है। मुझे दुनिया भर से युवाओं के कॉल आते हैं और वे मुझसे शो के बारे में पूछते हैं तथा हमारे शो के किरदारों और कहानी की सराहना करते हैं। सोनी सब ने मेरे लिए यह संभव कर दिया है और मैं इसके लिए उन्हें धन्यवाद देना चाहूंगा। मुझे सोनी सब  के सभी शो काफी अच्छे लगते हैं। बालवीर रिटर्न्स सबसे लोकप्रिय शो में से एक है।


श्रीधर वत्सर को डबल रोल में अपने अभिनय का लोहा मनवाते हुए देखिए बालवीर रिटर्न्स में, सोमवार से शुक्रवार, रात 8 बजे केवल सोनी सब पर!


 


Comments

Popular posts from this blog

बुजुर्गों की सेवा कर सविता ने मनाया अपना जन्मदिन

भोपाल। प्रदेश की जानीमानी समाजसेवी सविता मालवीय का जन्मदिन अर्पिता सामाजिक संस्था द्वारा संचालित राजधानी के कोलार स्थिति सारथी वृद्धजन सेवा आश्रम पर वहां रहने वाले वृद्धजनों की सेवा सत्कार कर मनाया गया। यहां रहने वाले सभी बुजुर्गों की खुशी इस अवसर पर देखते बन रही थी। सविता मालवीय के सारथी वृद्धजन सेवा आश्रम पहुंचे उनके परिजनों और  सखियों ने सभी बुजुर्गों को खाना सेवाभाव से खिलाया और अंत में केक खिलाकर जन्मदिन के आयोजन को आनंदमय कर दिया। इस जन्मदिन कार्यक्रम को संपन्न कराने में सारथी वृद्धजन सेवा आश्रम की संचालिका साधना भदौरिया का महत्वपूर्ण सहयोग रहा। इस जन्मदिन अवसर को महत्वपूर्ण बनाने के लिए सविता मालवीय के परिजन विवेक शर्मा, सुनीता, सीमा और उनके जेठ ओमप्रकाश मालवीय सहित सखियां रोहिणी शर्मा, स्मिता परतें, अर्चना दफाड़े, हेमलता कोठारी, मीता बनर्जी आदि की उपस्थिति प्रभावी रही। सभी ने सविता को बधाई देते हुए उनके उज्ज्वल भविष्य की कामना की तो वहां रहने वाले बुजुर्गों ने ढेर सारा आशीर्वाद दिया। सारथी वृद्धजन सेवा आश्रम की संचालिका साधना भदौरिया ने जन्मदिन आश्रम आकर मनाने के लिए सविता माल

पद्मावती संभाग पार्श्वनाथ शाखा अशोका गार्डन द्वारा कॉपी किताब का वितरण

झुग्गी बस्ती के बच्चों को सिखाया सफाई का महत्व, औषधीय पौधों का वितरण किया गया भोपाल। पद्मावती संभाग की पार्श्वनाथ शाखा अशोका गार्डन महिला मंडल द्वारा प्राइम वे स्कूल सेठी नगर के पास स्थित झुग्गी बस्ती के गरीब बच्चों को वर्ष 2022 -23  हेतु कॉपियों तथा पुस्तकों का विमोचन एवं  वितरण किया गया। हेमलता जैन रचना ने बताया कि उक्त अवसर पर संभाग अध्यक्ष श्रीमती कुमुदनी जी बरया  मुख्य अतिथि के रूप में उपस्थित थीं। आपने पद्मावती संभाग पार्श्वनाथ शाखा द्वारा की जाने वाली सेवा गतिवधियों की भूरी-भूरी प्रशंसा की। मुख्य अतिथि का हल्दी, कुमकुम और पुष्पगुच्छ से स्वागत के पश्चात् अपने अध्यक्षीय उद्बोधन में शाखा अध्यक्ष कल्पना जैन ने कहा कि उनकी शाखा द्वारा समय-समय पर समाज हित हेतु, हर तबके के लिए सेवा कार्य किये जाते रहे हैं जिसमें झुग्गी बस्ती के बच्चों को साफ़-सफाई का महत्व समझाना, गरीब बच्चों को कॉपी किताब का वितरण करना, आर्थिक रूप से असक्षम बच्चों की फीस जमा करना, वृक्षारोपण अभियान के तहत औषधीय तथा फलदार पौधों का वितरण आदि किया जाता रहा है। इस अवसर पर अध्यक्ष कल्पना जैन, चेयर पर्सन सुषमा जैन, उपाध्यक्ष

गो ग्रीन थीम में किया गर्मी का सिलिब्रेशन

एंजेल्स ग्रुप की सदस्यों ने जमकर की धमाल-मस्ती भोपाल। राजधानी की एंजेल्स ग्रुप की सदस्यों ने गो ग्रीन थीम में गर्मी के आगाज को सिलिब्रेट किया। ग्रुप की कहकशा सक्सेना ने बताया कि सभी जानते हैं कि अब गर्मी के मौसम का आगमन हो चुका है इसलिए पार्टी की होस्ट पिंकी माथे ने हरियाली को मद्देनजर रख कर ग्रीन थीम रखी। जबकि साड़ी की ग्रीन शेड्स को कहकशा सक्सेना ने इन्वाइट किया। इस पार्टी में सभी एंजेल्स स्नेहलता, कहकशा सक्सेना, आराधना, गीता गोगड़े, इंदू मिश्रा, पिंकी माथे, शीतल और वैशाली तेलकर ने अपना पूरा सहयोग दिया। सभी ने मिलकर गर्मी का स्वागत लाइट फ़ूड, बटर मिल्क, लस्सी और फ्रूट्स से पार्टी को जानदार बना दिया।