कांग्रेस की रैली के बाद क्यों शुरू हुआ उपद्रव: तिवारी


दिल्ली बीजेपी अध्यक्ष बोले, सीएए से मुस्लिमों को कोई खतरा नहीं 


नई दिल्ली। दिल्ली बीजेपी अध्यक्ष मनोज तिवारी ने कहा है कि नागरिकता संशोधन कानून से मुस्लिमों को कोई खतरा नहीं है। सीएए से भारत के मुसलमानों का क्या लेना देना? इससे अगर उन पर कोई असर पड़ता तो जिस दिन बिल पास हुआ उसी दिन विरोध शुरू हो जाता। यह सब तो शुरू हुआ है रामलीला मैदान में हुई कांग्रेस की रैली के बाद। मैं सवाल पूछता हूं कि आखिर रैली के बाद क्यों उपद्रव हुआ? उधर, आप अमानतुल्लाह खान का भाषण भी देखिए कि वह कितना भड़काऊ है। हम और हमारी सरकार तो समझा रहे हैं सबको। उनके अनुसार महंगाई से अधिक नागरिक संशोधन एक्ट जरूरी है। हम पाकिस्तानी हिंदुओं की पीड़ा को समझते हैं। तिवारी ने कहा कि भारत का मुस्लिम शांति पसंद हैं। कोई किसी के चक्कर में नहीं आएगा। मुसलमानों से हम हाथ जोड़कर प्रार्थना कर रहे हैं कि नागरिकता कानून को पढि़ए, किसी के बहकावे में मत आइए। तिवारी ने कहा कि मनीष सिसोदिया को झूठा विडियो प्रसारित करने के लिए गिरफ्तार किया जाना चाहिए। तिवारी ने कहा कि आम आदमी पार्टी के विधायक का भाषण लोगों ने सुना ही होगा, मैं बड़ी वेदना में हूं। उस जगह होकर आया, जहां पुलिस वाले को कल मार रहे थे। एक निहत्थे को पत्थर मारा। उन मारने वालों का समर्थन कर रहे हैं कांग्रेस और आम आदमी पार्टी के लोग।


दिल्ली के स्कूलों में घोटाला हुआ 


तिवारी ने आरोप लगाया कि केजरीवाल ने दिल्ली में एक भी नया स्कूल नहीं बनाया। जो कमरे बना रहे हैं उसमें घोटाला है। आप हमारे साथ दिल्ली के स्कूलों में चलिए। एमसीडी साढ़े 9 लाख में आरसीसी की छत वाले कमरे बनाती है और ये 16 लाख में कड़ी और टुकड़ों वाला। दो-तीन साल में मनीष सिसोदिया घोटाले के आरोप में जेल जाएंगे।


Comments

Popular posts from this blog

मंत्री भदौरिया पर भारी अपेक्स बैंक का प्रभारी अधिकारी

"गंगाराम" की जान के दुश्मन बने "रायसेन कलेक्टर"

भोपाल, उज्जैन और इंदौर में फिर बढ़ाया लॉकडाउन