खुशखबरी: कोरोना के मरीजों की हालात में सुधार


-प्रदेश में बढ़ते संक्रमण के बीच राहत की खबर, अब तक 39 पॉजिटिव
-इंदौर में 24, भोपाल में 3, जबलपुर में 8, ग्वालियर-शिवपुरी में 2-2 मरीज संक्रमित
-कई जिलों में सब्जी और फल मंडियों में तब्दील हुए स्टेडियम
-सोशल डिस्टेंसिंग के लिए गोलों की मार्किंग की गई


भोपाल। कोरोना संक्रमण की चेन तोडऩे के लिए 21 दिन के लॉकडाउन का रविवार को पांचवां दिन है। प्रदेश में बढ़ते संक्रमण के बीच राहत की खबर भी आई। प्रदेश के कई अस्पतालों में भर्ती 39 में से 10 मरीजों की हालात में सुधार हुआ है। इनमें 6 मरीज जबलपुर और 1 मरीज ग्वालियर का है। इन मरीजों को कोरोनावायरस की रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद अस्पताल में भर्ती कराया गया था। इन सातों मरीजों के स्वास्थ्य में सुधार होने की जानकारी मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने वीडियो जारी करके भी दी। डॉक्टर्स ने कहा-3 दिन पहले इन मरीजों के सैंपल जांच के लिए भेजे गए थे। सभी की दूसरी रिपोर्ट निगेटिव आई है। 4 दिन बाद एक बार फिर से सैंपल लेकर जांच के लिए भेजे जाएंगे। तीसरे सैंपल की रिपोर्ट के आधार पर ही फैसला लेंगे। सोशल डिस्टेंसिंग के लिए खंडवा में स्टेडियम को सब्जी और फल मंडियों में बदलने के आदेश दिए गए हैं। यहां मार्किंग भी की गई है, ताकि लोग एक-दूसरे से तय दूरी पर खड़े हों।
भोपाल के तीन संक्रमितों की हालत में सुधार
मध्यप्रदेश समेत देश और दुनिया भर में कोरोना वायरस के लगातार बढ़ते मामलों के बीच राजधानी भोपाल से एक अच्छी खबर सामने आई है। बता दें कि, बीते तीन दिनों के भीतर शहर में एक पिता-बेटी और एक अन्य व्यक्ति कोरोना वायरस संक्रमित पाया गया। इस हिसाब से शहर में कोरोना वायरस से संक्रमितों की संख्या अब तक तीन हो चुकी है। इन तीनों ही मरीजों का इलाज शहर के एम्स अस्पताल के आइसोलेशन नार्ड में चल रहा है। शहर में कोरोना पॉजिटिव मरीजों के सामने आने के बाद लोगों में डर की स्थिति बनी हुई है। इसी बीच भोपाल के मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी का बयान सामने आया है। उन्होंने कहा कि, भोपाल में कोरोना संक्रमित तीनों मरीजों की स्थिति में लगातार सुधार हो रहा है। उन्होंने ये भी कहा कि, कोरोना संक्रमित तीनों पहले से काफी हद तक बेहतर स्थिति में हैं और रिकवर भी हो रहे हैं।
अफवाहों पर ध्यान न दें
मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी की ओर से कहा गया है कि, अब तक शहर में सामने आए तीनों मरीजों की हालत में सुधार है। स्थिति ये है कि, सब कुछ ठीक रहा तो तय समय के ऑबजर्वेशन के बाद उन्हें उनके घर पर रखकर निगरानी रखी जा सकेगी। हालांकि, उन्होंने शहरवासियों से शहरवासियों से अपील की है कि, किसी भी तरह की अफवाहों पर ध्यान न दें। खासतौर पर सोशल मीडिया पर फैलाई जा रही भ्रामक जानकारियों से बचें। संक्रमण से संबंधित सभी अपडेट स्वास्थ विभाग द्वारा मीडिया को दिया जा रहा है। उन्हीं तथ्यों को माने जो प्रमाणित हों। अफवाह पर ध्यान न दें। क्योंकि देखा गया है कि, लोगों में कोरोना वायरस को लेकर डर बढ़ता जा रहा है। इसका मुख्य कारण सोशल मीडिया पर फैलाई जा रही भ्रामक जानकारियां हैं।
प्रदेश में कोरोना के 39 केस पॉजिटिव, 2 मौत
बता दें कि, अब तक मध्य प्रदेश में कोरोना के कुल 39 पॉजिटिव मामले सामने आ चुके हैं। इनमें संक्रमितों की बड़ी संख्या इंदौर में सामने आई है। शहर में अब तक कोरोना के संक्रमितों की संख्या 20 हो गई है। इसके बाद जबलपुर में कोरोना के संक्रमित सामने आए हैं। यहां संक्रमितों की संख्या 8 हो चुकी है। वहीं, उज्जैन में कोरोना के 4 पॉजिटिव सामने आए हैं। इसके बाद भोपाल में 3, ग्वालियर में 2 और शिवपुरी में 2 मामले सामने आ चुके हैं। साथ ही, प्रदेश में अब तक कोरोना के 2 संक्रमितों की मौत भी हो चुकी है।


Comments

Popular posts from this blog

मंत्री भदौरिया पर भारी अपेक्स बैंक का प्रभारी अधिकारी

"गंगाराम" की जान के दुश्मन बने "रायसेन कलेक्टर"

भोपाल, उज्जैन और इंदौर में फिर बढ़ाया लॉकडाउन