लेडी सिंघम के सामने घुटने टेकते हैं खनिज माफिया


-खनिज अधिकारी फरहत जहां से खौफ खाते हैं रेत करोबारी
भोपाल। मध्यप्रदेश में अवैध रेत उत्खनन एक बड़ा मुद्दा बनता जा रहा है। शहडोल में कांग्रेस नेता की हेकड़ी निकालने वाली खनिज अधिकारी फरहत जहां से वहां के खनन माफिया खौफ खाते हैं। इतना ही नहीं फरहत जहां  का जिले में इतना खौफ है कि माफिया उनकी घर की जासूसी करवाते हैं कि आखिर वह किसी दिशा में निकलने वाली हैं। यहीं नहीं लेडी सिंघम के मन में डर पैदा करने के लिए माफिया उन पर हमला भी करवाते हैं। शहडोल में पोस्टिंग के बाद से ही खनिज अधिकारी फरहत जहां रेत माफियाओं के खिलाफ एक्शन मोड में हैं। अवैध खनन करने वाले लोगों में फरहत जहां का खौफ इतना है कि माफिया एक समय में इनकी घर की जासूसी करवाते थे। पूर्व में माफिया इनके घर के सामने अपने लोगों को खड़ा रखते थे। ताकि लेडी अफसर की मूवमेंट के बारे में जानकारी मिल सके। जासूस के द्वारा प्राप्त सूचना के आधार पर माफिया अलर्ट हो जाते थे।
माफियाओं की करस्तानी नहीं रोक सकी मजबूत ईरादे
खनिज अधिकारी से डर इतना था कि माफियाओं ने कार्यालय के सामने पहुंचकर खनिज निरीक्षक के वाहन में तोडफ़ोड़ किया था। अक्टूबर 2018 में घटित उक्त घटना में दो नकाबपोश लोग शामिल थे। पुलिस में खनिज अधिकारी ने इस हमले को शिकायत भी दर्ज कराई थी। यहीं नहीं खनन के खिलाफ जब यह कार्रवाई करने गई थी तब पटासी गांव में माफिया ने लेडी अफसर पर पथराव भी किया था।
11 की जगह 44 करोड़ पहुंचा राजस्व
यहीं नहीं फरहत जहां ने अपने कार्यकाल के दौरान के दौरान पांच माफियाओं के वाहनों को राजसात भी कराया। पहले रेत की ग्यारह खदानें थी और उससे राजस्व 11 करोड़ आता था। अब राजस्व 44 करोड़ पहुंच गया है। दो साल के दौरान खनिज अधिकारी फरहत जहां ने माफियाओं के खिलाफ 50 से ज्यादा बड़ी कार्रवाई की है। पढ़ाई लिखाई की बात करें तो फरहत जहां ने एनआईटी रायपुर से एमटेक में टॉप किया है।


Comments

Popular posts from this blog

मंत्री भदौरिया पर भारी अपेक्स बैंक का प्रभारी अधिकारी

"गंगाराम" की जान के दुश्मन बने "रायसेन कलेक्टर"

भोपाल, उज्जैन और इंदौर में फिर बढ़ाया लॉकडाउन