राजधानी में एक दिन में मिले 21 नए मरीज


इंदौर के बाद भोपाल बना कोरोना का हॉटस्पॉट, राज्य में कोरोना के 256 केस 

भोपाल में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या सोमवार को बढ़कर 61 हो गई है


भोपाल। राजधानी भोपाल में कोरोना वायरस संक्रमित मरीजों की संख्या सोमवार को बढ़कर 61 हो गई है। भोपाल के मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डा. सुधीर डेहरिया के अनुसार, सोमवार को शाम तक भोपाल में कोरोना वायरस संक्रमण के 21 नए मरीज मिले हैं। इन्हें मिलाकर अब तक भोपाल में कोरोना वायरस संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़कर 61 हो गई है। डा. डेहरिया ने के अनुसार, आज पाए गए कोरोना वायरस संक्रमितों में से अधिकतर मरीज स्वास्थ्य और पुलिस विभाग के कर्मचारी हैं। उन्होंने बताया कि भोपाल में 61 मरीजों में से अब तक दो मरीजों को स्वस्थ घोषित कर अस्पताल से छुट्टी दी गयी है। जबकि एक मरीज की रविवार रात को एक निजी अस्पताल में उपचार के दौरान मृत्यु हो गई थी। पिछले एक सप्ताह में प्रदेश के स्वास्थ्य विभाग की प्रमुख सचिव सहित दो आईएएस अधिकारी कोरोना वायरस संक्रमण की चपेट में आ चुके हैं।
मप्र में इंदौर के बाद भोपाल कोरोना वायरस संक्रमण का हॉटस्पॉट बन गया है। राजधानी में सोमवार सुबह 21 नए कोरोना पॉजिटिव मिले। अब तब भोपाल में 61 कोरोना पॉजिटिव मिले  हैं। सोमवार को भी स्वास्थ्य विभाग के पांच कर्मचारियों समेत 14 की रिपोर्ट पॉजिटिव आई। अब तक स्वास्थ्य विभाग से 16 अधिकारी-कर्मचारी संक्रमित हो गए। भोपाल में कुल संक्रमितों की संख्या 61 हो गई। यहां इस समय कुल 53 संक्रमितों का इलाज चल रहा है। भोपाल में अब तक 20 जमाती संक्रमित पाए गए।
लॉकडाउन का सभी जिलों में हो सख्ती से पालन
मुख्यमंत्री ने कहा है कि प्रदेश में कोरोना का कम्युनिटी स्प्रेड रोकने के लिए यह आवश्यक है कि लॉक डाउन का कड़ाई से पालन सुनिश्चित हो। सभी कलेक्टर एवं पुलिस अधीक्षक अपने जिलों में लॉकडाउन का सख्ती से पालन किया जाना सुनिश्चित करें। कोरोना संबंधी कार्य में लगे अमले के कार्य में बाधा उत्पन्न करना तथा कोरोना को छुपाना दंडनीय अपराध है। चाहे वह व्यक्ति किसी भी वर्ग अथवा समुदाय का हो, उसके विरुद्ध कठोर कार्रवाई की जाएगी। नर्स, डॉक्टर आदि के आवागमन के लिए वाहनों की व्यवस्था सुनिश्चित की जाए। प्रदेश के सभी सरकारी अस्पतालों में वर्तमान में लिया जाने वाला ओपीडी शुल्क आगामी आदेश तक नहीं लिया जाए।
अब तक 14 की मौत
प्रदेश में अब तक इस महामारी से 15 लोगों की मौत हो चुकी है। मरने वाले लोगों में इंदौर के सर्वाधिक 9, उज्जैन के दो और खरगोन, छिंदवाड़ा और भोपाल के एक-एक मरीज शामिल हैं।
प्रदेश में अब तक मरीजों की संख्या:
भोपाल - 61
इंदौर - 151
मुरैना - 12
उज्जैन - 08
जबलपुर - 08
ग्वालियर - 02
शिवपुरी - 02
खरगोन - 04
छिंदवाड़ा - 02
बड़वानी - 03
विदिशा - 01
बैतूल -01
अन्य राज्य - 01


Comments

Popular posts from this blog

मंत्री भदौरिया पर भारी अपेक्स बैंक का प्रभारी अधिकारी

"गंगाराम" की जान के दुश्मन बने "रायसेन कलेक्टर"

भोपाल, उज्जैन और इंदौर में फिर बढ़ाया लॉकडाउन