एक लाख 11 हजार लड्डुओं से रामलला को लगेगा भोग


भूमि पूजन को लेकर उल्लास में डूबी रामनगरी 


अयोध्याा। अयोध्या में भूमि पूजन को लेकर तैयारियां जोरों पर हैं। नगर का रंगरोगन किया जा रहा है और रामलला के लिए भूमि पूजन के दिन पहनने वाले कपड़े भी तैयार कर लिए गए हैं। इसी कड़ी में रामलला को भोग लगाने के लिए अयोध्या की मणिरामदास छावनी में एक लाख 11 हजार लड्डुओं को तैयार किया जा रहा है। इन्हें स्टील के डिब्बों में पैक किया जाएगा और अयोध्या व अन्य तीर्थ क्षेत्रों में वितरण किया जाएगा। लड्डू बनाने का काम देवराहा बाबा स्थल से जुड़े अनुयायी कर रहे हैं। बता दें कि आयोजन को देखते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा था कि पूरे नगर को त्रेतायुग की तरह सजाया जाए। उन्होंने पांच अगस्त को लोगों से दीवाली मनाने की भी अपील की है। राममंदिर निर्माण शुरू होने की खुशी रामनगरी के कोने-कोने में प्रत्यक्षदर्शित हो रही है। खुशी कुछ इस तरह है कि जैसे रामजन्म के समय अयोध्या का उल्लास छलकता है। इसी तरह की स्थिति रामनगरी के संत-धर्माचार्यों की भी है। हालांकि कोरोना के चलते लाखों रामभक्त अयोध्या आकर भूमि पूजन नहीं देख सकते हैं, फिर भी उनके मन में जन्मभूमि बसी हुई है। अयोध्या वासी लाइव भूमि पूजन देखने की तैयारी में पूरे उत्साह से जुटे हुए हैं।


भगवान का अयोध्या में फिर से प्राकट्य हो रहा



नयाघाट स्थित वशिष्ठ पीठ तिवारी मंदिर के महंत गिरीशपति त्रिपाठी अपने भक्तों के साथ भूमि पूजन के कार्यक्रम को लेकर ही चर्चा करते मिलते हैं। वे कहते हैं राममंदिर का जो भूमि पूजन होने जा रहा है, इसको लेकर इस प्रकार की खुशी का अहसास हो रहा है जैसे रामजन्म की बेला में होता है। एक तरह से भगवान का अयोध्या में फिर से प्राकट्य ही हो रहा है। सदियों के संघर्ष के बाद रामलला टेंट से आजाद होकर दिव्य-भव्य मंदिर में विराजने जा रहे हैं। इससे बड़ी खुशी और क्या हो सकती है।
त्रेतायुग में जब दशरथ जी के पुत्र के रूप में राम का जन्म हुआ तो उस समय पूरी अयोध्या को ब्रह्मानंद की अनुभूति हुई थी, कुछ इसी तरह की अनुभूति संत समाज भी कर रहा है। जिनका नाम सुनने मात्र से ही सब शुभ हो जाता है, वह ब्रह्म स्वरूप भगवान श्रीराम के भव्य मंदिर का निर्माण होने जा रहा है। अयोध्या राममंदिर निर्माण के साथ ही सनातन संस्कृति का प्रमुख केंद्र बनने जा रही है। राम की पैड़ी पर भूमि पूजन की खुशी में दिए जलाने की तैयारी में जुटी छात्र-छात्राएं भी उत्साहित नजर आईं।


Comments

Popular posts from this blog

मंत्री भदौरिया पर भारी अपेक्स बैंक का प्रभारी अधिकारी

"गंगाराम" की जान के दुश्मन बने "रायसेन कलेक्टर"

भोपाल, उज्जैन और इंदौर में फिर बढ़ाया लॉकडाउन