राजधानी में रिकॉर्ड बारिश, 14 साल बाद साढ़े 8 इंच से ज्यादा पानी गिरा


भोपाल में बड़ा तालाब लबालब होने से भदभदा डैम के 10 गेट खोल दिए गए

भोपाल। राजधानी भोपाल में शुक्रवार की सुबह से लेकर शनिवार की सुबह तक रिकॉर्ड बारिश हुई है। भोपाल में 14 साल बाद 24 घंटे में साढ़े 8 इंच से ज्यादा यानि 215.4 मिलीमीटर पानी गिरा। इसके साथ ही 14 साल बाद अगस्त में एक दिन में सबसे ज्यादा बारिश का रिकॉर्ड भी टूट गया है। यहां पर 24 घंटे में 215.4 मिली मीटर बारिश हुई है। इससे पहले भोपाल में 14 अगस्त 2006 को 299 मिमी बारिश हुई थी। इधर, बड़ा तालाब लबालब भर जाने से पानी वीआईपी रोड पर बहने लगा है। वहीं शनिवार को सुबह पहले भदभदा डैम के एक-एककर छह गेट खोलने पड़ गए। इसके बाद कलियासोत डैम के दो गेट भी खोल गए दिए गए हैं। शहर में भारी बारिश का अंदाजा इस बात से लगा सकते हैं कि एक ही दिन में छह घंटे के अंदर दोनों बड़े डैम के गेट खोलने पड़ गए। राजधानी में 24 घंटे से जारी भारी बारिश के चलते भोपाल की लाइफ लाइन बड़ा तालाब लबालब भर गया है। इस कारण सीजन में पहली बार भदभदा डैम के छह गेट और कलियासोत डैम के दो गेट खोल दिए गए हैं। बड़ा तालाब में लगातार आ रहे बैक वाटर और कोलांस नदी का पानी का दबाव लगातार बढऩे से पानी वीआईपी रोड पर बहने लगा है।


14 साल बाद बरसा इतना पानी



14 साल बाद बरसा इतना पानी मौसम विभाग के मुताबिक, 24 घंटे में भोपाल में 215.4 मिलीमीटर बारिश रिकॉर्ड की गई है। यानी करीब साढ़े 8 इंच पानी बरसा है। यह 14 साल में अगस्त में एक दिन की सबसे ज्यादा बारिश है। इसके पहले 2006 में 14 अगस्त को 299 मिलीमीटर बारिश रिकॉर्ड की गई थी। बताते हैं कि तब भोपाल के छोटा तालाब का पानी सड़क पर भर गया था।


शहर के निचले इलाकों में पानी भरा


इधर को कोलांस नदी में भी बाढ़ आ गई है, जिससे रातीबड़-सीहोर रोड पर यातायात बाधित हो गया है। कुछ लोगों के पानी में फंसे होने की भी सूचना है। वहीं रात भर हुई बारिश के चलते भोपाल के महामाई बाग, पुष्पा नगर, रेलवे कॉलोनी, शाहपुरा, साकेत नगर, कोलार रोड की कालोनियां, भदभदा रोड की कॉलोनियां, भानपुर, 11 मिल और मिसरोद के आसपास के इलाकों में लोगों के घरों में भी पानी भर गया है। जिससे वहां के लोगों को राहत पहुंचाने का काम भी शुरू हो गया है।


Comments

Popular posts from this blog

मंत्री भदौरिया पर भारी अपेक्स बैंक का प्रभारी अधिकारी

"गंगाराम" की जान के दुश्मन बने "रायसेन कलेक्टर"

भोपाल, उज्जैन और इंदौर में फिर बढ़ाया लॉकडाउन