मौकापरस्त राजनीति से त्रस्त प्रदेश की जनता : अमित वर्मा


प्रशासनिक अफसरशाही तंत्र का हिटलरशाही भरा उपयोग


ग्वालियर । जनता कांग्रेस महासचिव अमित वर्मा ने आज ग्वालियर में कार्यकर्ता मीटिंग के पश्चात पत्रकारों से चर्चा के दौरान बताया कि प्रदेश की जनता इस वक्त डर के वातावरण में जी रही है, प्रशासनिक हिटलरशाही चरम पर है । सरकारी तंत्र का बेधड़क गलत इस्तेमाल करती हुई शिवराज सिंह सरकार बेलगाम होकर चुनावों के लिये महामारी , रोजगार, बच्चों की पढाई स्कूली व्यवस्था आदि के लिए निष्क्रीय दिखाई दे रही है । वर्मा ने कहा कि आज मध्य प्रदेश की जनता कांग्रेस का सिर्फ एक ही सवाल है कि क्या चुनावी मीटिंग सभाओं में हजारों की तादात में भीड़ से कोरोना नहीं फैलता और बाकि सब जगह कोरोना का डर दिखाया जाना यह कैसे संभव हो रहा है । क्या चुनावी सभाओं में कोरोना संक्रमण ना फैलने का कोई विशेष फार्मूला सरकार ने इजाद कर लिया है ?



वर्मा ने जोर देकर कहा कि शिवराज सिंह के शासन में महिला उत्पीडन चरम पर, बेरोजगारी, भुखमरी चरम पर फिर भी जनता बोल नहीं पा रही क्योंकि डरा दिया गया है जनता को मार मारकर । धारा 151 का बेधड़क प्रयोग, विचारों की अभिव्यक्ति पर अंकुश लगाने की कोशिशें, हर चीज में मार्केटिंग करती सरकार ने जनता को एक खिलौना मात्र समझकर हुकम शाही और अफसरशाही को आधार बनाकर जनता की आवाज को दबा दिया है ।
जनता के साथ अफसरशाही तंत्र के चलते सरकारी अफसरों द्वारा हो रहे भ्रष्टाचार और अत्याचारों की शिकायतें जांच के नाम पर धूल खा रही हैं लेकिन शिवराज सरकार और उनके मंत्रीयों के हस्तक्षेप के चलते जांच पूरी ही नहीं हो रही हैं । पुलिस विभाग, नगर पंचायत, नगर निगम, लोकनिर्माण विभाग के कर्मचारी अफसरों की शिकायतों पर निकाल क्यों नहीं हो रहे भाजपा सरकार के राज में । बेहतर लॉ एंड ऑर्डर की घोषणा करने वाले हमारे मुख्यमंत्री शिवराज सिंह सच्चे लोकतंत्र में भ्रष्टाचार को समाप्त करने और जनता को सूकून देने की पहली सीढी है । अफसरों के विरुद्ध शिकायतों पर तत्काल निराकरण होना लेकिन अफसोस आपके मंत्रियों के चलते आपकी सरकार इस मामले में पूरी तरह से फेल हो चुकी है । जनता देख रही है कि आपके मंत्री किस तरह से प्रदेश में भ्रष्ट कर्मचारियों अधिकारीयों को संरक्षण देते हुए जनता की आवाज को दबाये हुये हैं ।
वर्मा ने कहा कि समय आ गया है कि यदि तत्काल सुधार नहीं हुआ इस सिस्टम में तो जनता की विरोधी और अफसरशाही की चहेती इस सरकार को सिंहासन खाली करो कि जनता आती है उद्घोष की तर्ज पर जनता उखाड़ फेंकेगी।


Comments

Popular posts from this blog

मंत्री भदौरिया पर भारी अपेक्स बैंक का प्रभारी अधिकारी

"गंगाराम" की जान के दुश्मन बने "रायसेन कलेक्टर"

भोपाल, उज्जैन और इंदौर में फिर बढ़ाया लॉकडाउन