भोपाल मण्डल ने सबसे अधिक मालगाड़ियां भेजकर बनाया रिकार्ड


इटारसी यार्ड से भोपाल, जबलपुर, खंडवा व नागपुर दिशा में कुल 71 मालगाड़ियां भेजी गईं


भोपाल । दीपावली महापर्व पर जब पूरा देश  दीपोत्सव मना रहा था, भोपाल मण्डल के सजग व सतर्क रेल कर्मी सुचारू रेल परिचालन में व्यस्त थे। लोको पायलट, सहायक लोको पायलट, परिचालक, स्टेशन कर्मचारी व मण्डल नियंत्रण कार्यालय के कर्मचारियों द्वारा आपसी समन्वय से कार्य करते हुए इटारसी यार्ड से भोपाल, जबलपुर, खंडवा व नागपुर दिशा में कुल 71 मालगाड़ियां भेजी गईं। जो कि वर्तमान में चलाई जा रही स्पेशल गाड़ियों के अतिरिक्त हैं। इनमे से नागपुर की ओर इटारसी यार्ड से  24 घंटे में कुल 29 मालगाड़ियां भेजी गईं जो अभी तक का सर्वश्रेष्ठ आंकड़ा है। इससे पूर्व  06.09.2019 को यह आंकड़ा 25 का रहा है। मालगाड़ी परिचालन हेतु चालक दल को बुलाने एवं  मालगाड़ी प्रस्थान में लगने वाला समय औसतन 39 मिनट रहा।
      इस दौरान मण्डल रेल प्रबंधक उदय बोरवणकर के निर्देशन व मार्गदर्शन में सहायक मण्डल परिचालन प्रबन्धक शशांक गुप्ता एवं सहायक मण्डल विद्युत इंजीनियर (गाड़ी परिचालन) ममलेश यादव द्वारा सतत निगरानी की गई। मण्डल रेल प्रबंधक नें अधिकारियों व कर्मचारियों द्वारा संयुक्त रूप से किये गए इस उत्कृष्ट कार्य की सराहना करते हुए सामूहिक पुरस्कार देने की स्वीकृति दी है।


अक्टूबर में मालभाड़ा से 117.81 प्रतिशत अधिक कमाया :
रेलवे के जरिये माल यातायात को बढ़ावा देने के लिए रेल मंत्रालय (रेलवे बोर्ड) द्वारा माल लदान से जुड़े व्यापारियों को आकर्षित करने के लिए विभन्न प्रोत्साहन योजनाएं लागू की गई हैं। मण्डल रेल प्रबंधक उदय बोरवणकर के कुशल निर्देशन में वरिष्ठ मण्डल वाणिज्य प्रबंधक विजय प्रकाश के नेतृत्व में वाणिज्य विभाग के अधिकारियों व कर्मचारियों द्वारा आपसी समन्वय से कार्य करते हुए माल परिवहन से जुड़े बड़े और छोटे व्यापारियों से संपर्क कर उन्हें प्रोत्साहन योजनाओं की जानकारी देते हुए रेलवे के जरिये अधिकाधिक माल का परिवहन करने हेतु प्रेरित किया जा रहा है।
अधिकारियो एवं कर्मचारियों द्वारा आपसी समन्वय से कार्य करने के परिणामस्वरूप भोपाल मण्डल ने माह अक्टूबर-2020 में मालभाड़ा मद में रुपये 95.62 करोड़ की आय अर्जित की है। जोकि विगत वर्ष के इसी माह की अर्जित आय रुपये 43.90 करोड़ से 117.81 प्रतिशत अधिक है। भोपाल मण्डल रेल प्रशासन माल एवं पार्सल यातायात को रेलवे की तरफ आकर्षित करने के लिए माल व पार्सल सेवा से जुड़े ग्राहकों/व्यापारियों को शिकायत रहित सेवा प्रदान करने के प्रति कृत संकल्प है, साथ ही रेलवे के जरिये माल लदान को बढ़ाने के लिए सतत प्रयत्नशील है।


 


Comments

Popular posts from this blog

मंत्री भदौरिया पर भारी अपेक्स बैंक का प्रभारी अधिकारी

"गंगाराम" की जान के दुश्मन बने "रायसेन कलेक्टर"

भोपाल, उज्जैन और इंदौर में फिर बढ़ाया लॉकडाउन