भारत के आठ राज्यों का आज सूरज से होगा सामना : सारिका



21 जून को पौधे देंगे देर तक आक्सीजन, गुड इवनिंग कहने के लिये करना होगा आज लंबा इंतजार

मध्यप्रदेश के 14 जिलों के ठीक उपर होगा आज सूर्य : सारिका घारू

भोपाल। भूमध्य रेखा के उत्तर में 23.5 एल्टीट्यूड पर स्थित पृथ्वी के 16 देशों से और भारत के 8 राज्यों में और मध्यप्रदेश के 14 जिलों से होकर गुजरने वाली कर्क रेखा के ठीक उपर आज 21 जून को सूर्य आ रहा है। इस कारण उत्तरी गोलार्द्ध में आज दिवस की अवधि सबसे लंबी तथा रात्रि सबसे छोटी होगी। भारत सरकार की नेशनल अवार्ड प्राप्त विज्ञान प्रसारक सारिका घारू ने बताया कि मध्यप्रदेश के  रतलाम, उज्जैन, आगरमालवा, राजगढ़, सीहोर, भोपाल, विदिशा, रायसेन, सागर, दमोह, कटनी, जबलपुर, उमरिया तथा शहडोल जिलों में से होकर जाने वाली इस काल्पनिक रेखा पर सूर्य की उत्तरायण यात्रा का अंतिम दिन होगा। कल से सूर्य वापस दक्षिण दिशा की ओर जाने का आभास होगा। इसे दक्षिणायन कहा जाता है।

सारिका ने बताया कि भूमघ्य रेखा  के 23.43 डिग्री उत्तर में स्थित इस काल्पनिक रेखा का नामकरण लगभग दो हजार साल पहले किया गया था। जब इसका नामकरण किया गया था तब सूर्य कर्क तारामंडल में था। पृथ्वी के प्रसेशन आॅफ इक्वेनाॅक्स की घटना के कारण अब इस समय सूर्य वृषभ तारामंडल में रहता है। अगर आज इस रेखा का नामकरण किया जाता तो इसे वृषभ रेखा नाम दिया जा सकता था।

सारिका ने जानकारी दी कि विश्व की दो नदियां कांगो तथा माही कर्क रेखा को दो बार पार करती है।  जिनमें से एक मध्यप्रदेश की माही नदी है। यह मध्यप्रदेश के धार जिले से आरंभ होकर कर्क रेखा को काटती हुई राजस्थान की तरफ जाती है वहां से यह गुजरात में प्रवेश करके पुनः कर्क रेखा को काटती है। सारिका ने कहा कि आक्सीजन तथा उर्जा देने वाली प्रकाश संश्लेषण की क्रिया के लिये सूर्यप्रकाश जरूरी घटक होता है, तो पौधें देंगे आज देर तक आक्सीजन और विटामिन डी देने वाले सूर्य को आज पाईये अपने बीच साल के सबसे लम्बे समय तक। आज सूर्य देर तक आकाष में बना रहेगा इसलिये गुडइवनिंग कहने के लिये आज साल का सबसे लंबा इंतजार करना होगा।

भारत के 8 राज्य जिनमें कर्क रेखा गुजरती है :

मिजोरम, त्रिपुरा, पश्चिम बंगाल, झारखण्ड, छत्तीसगढ़, मध्यप्रदेश, राजस्थान, गुजरात आदि है।

विश्व के 16 देश जिनमें कर्क रेखा गुजरती है :

बहामास, इजिप्ट, सउदी अरेबिया, चीन, अल्जेरिया, नाइजीरिया, लीबिया, दुबई, ओमान, बंगलादेश, भारत, म्यांमार, ताईवान, मेक्सिको, मारिटानिया, माली आदि। 

अलग-अलग शहरों के अनुसार विवरण :

उज्जैन : सूर्य प्रातः 5 बजकर 41 मिनिट में उदित होकर शाम 7 बजकर 15 मिनिट पर अस्त होगा। इस प्रकार दिवस 13 घंटे 33 मिनट और 42 सेकंड का होगा जो कि साल का सबसे लंबा दिवस होगा।

भोपाल : सूर्य प्रातः5 बजकर 35 मिनिट उदित होकर शाम 7 बजकर 9 मिनिट पर अस्त होगा इस प्रकार दिवस 13 घंटे 34 मिनट और 2 सेकंड का होगा जो कि साल का सबसे लंबा दिवस होगा।

होशंगाबाद : सूर्य प्रातः 5 बजकर 34 मिनिट उदित होकर शाम 7 बजकर 06 मिनिट पर अस्त होगा इस प्रकार दिवस 13 घंटे 31 मिनट और 53 सेकंड का होगा जो कि जिले के लिये साल का सबसे लंबा दिवस होगा।

इंदौर : सूर्य प्रातः 5 बजकर 42 मिनिट उदित होकर शाम 7 बजकर 14 मिनिट पर अस्त होगा इस प्रकार दिवस 13 घंटे 31 मिनट और 44 सेकंड का होगा जो कि नगर के लिये साल का सबसे लंबा दिवस होगा।

खरगौन : सूर्य प्रातः 5 बजकर 47 मिनिट उदित होकर शाम 7 बजकर 13 मिनिट पर अस्त होगा इस प्रकार दिवस 13 घंटे 26 मिनट और 34 सेकंड का होगा जो कि नगर के लिये साल का सबसे लंबा दिवस होगा।

झाबुआ : सूर्य प्रातः 5 बजकर 47 मिनिट उदित होकर शाम 7 बजकर 19 मिनिट पर अस्त होगा इस प्रकार दिवस 13 घंटे 31 मिनट और 57 सेकंड का होगा जो कि नगर के लिये साल का सबसे लंबा दिवस होगा।

छिंदवाड़ा : सूर्य प्रातः 5 बजकर 31 मिनिट उदित होकर शाम 7 बजे अस्त होगा इस प्रकार दिवस 13 घंटे 28 मिनट और 57 सेकंड का होगा जो कि नगर के लिये साल का सबसे लंबा दिवस होगा।

Comments

Popular posts from this blog

मंत्री भदौरिया पर भारी अपेक्स बैंक का प्रभारी अधिकारी

"गंगाराम" की जान के दुश्मन बने "रायसेन कलेक्टर"

भोपाल, उज्जैन और इंदौर में फिर बढ़ाया लॉकडाउन