क्षत्रिय महासभा द्वारा मनाई गई महाराणा प्रताप जयंती



चेतक पर चढ़ जिसने, भाला से दुश्मन संहारे थे…
मातृ भूमि के खातिर, जंगल में कई साल गुजारे थे…
झुके नही वह मुगलोँ से, अनुबंधों को ठुकरा डाला…
मातृ भूमि की भक्ति का, नया प्रतिमान बना डाला…
हल्दीघाटी के युद्ध में, दुश्मन में कोहराम मचाया था…
देख वीरता राजपूताने की, दुश्मन भी थर्राया था…
बलिदान पर राणा के, भारत माँ ने, 
लाल देश का खोया था…
वीर पुरुष के देहावसान पर, 
अकबर भी फफक कर रोया था…

भोपाल। मां भारती की स्वाधीनता एवं आन, बान, शान की रक्षा हेतु अपना संपूर्ण जीवन न्योछावर करने वाले वीर सपूत महाराणा प्रताप की जयंती कोलार महिला मंडल एवं अखिल भारतीय क्षत्रिय महासभा मध्यप्रदेश भोपाल द्वारा भोपाल नगर निगम वार्ड 84 अंतर्गत साउथ एक्सटेंशन कॉलोनी प्रियंका नगर में सादगी एवं कोविड-19 में निर्दिष्ट प्रोटोकॉल का पूरी तरह से पालन करते हुए मनाई गई। महाराणा प्रताप के चित्रपट पर पुष्पांजलि अर्पित कर दीप प्रज्वलन श्रीमती राखी परमार के साथ श्रीमती रेखा परमार एवं उपस्थित विभिन्न समाजों की अध्यक्ष द्वारा किया गया। इस अवसर पर श्रीमती सावित्री मध्यप्रदेश जोशी ब्राह्मण समाज की अध्यक्ष, श्रीमती नीलू जोशी मध्यप्रदेश मीणा समाज की महिला अध्यक्ष, श्रीमती नमिता देशवाली, श्रीमती ज्योति, सुनीता एवं पाटीदार समाज से हरि पाटीदार द्वारा दीप प्रज्वलन के साथ श्रद्धा सुमन अर्पित कर महाराणा प्रताप की वीर गाथा को याद किया गया। इसके साथ ही महाराणा प्रताप के पद चिन्हों का एवं सिद्धांतों का अनुकरण करने की शपथ ली गई। 


Comments

Popular posts from this blog

मंत्री भदौरिया पर भारी अपेक्स बैंक का प्रभारी अधिकारी

"गंगाराम" की जान के दुश्मन बने "रायसेन कलेक्टर"

भोपाल, उज्जैन और इंदौर में फिर बढ़ाया लॉकडाउन