पौधों का सजग प्रहरी बन संरक्षण भी देना होगा : हेमलता जैन

 


भोपाल। विश्व पर्यावरण दिवस पर सभी ने बेहद उत्साह के साथ पर्यावरण को नव-जीवन प्रदान कर, प्रदेश को ऑक्सीजन से समृद्ध प्रदेश बनाने की दिशा में अपना महत्वपूर्ण योयदान दिया। हर वर्ग ने, हर स्तर पर अपनी भागीदारी सुनिश्चित की। वृहद रूप से अभियान चलाये गए, किन्तु यह समस्त प्रयास तभी सार्थक होंगे जब हम सब इन पौधों के सजग प्रहरी बनकर संरक्षण भी प्रदान करें। यह बात समाजनसेवी हेमलता जैन रचना ने विश्व पर्यावरण दिवस पर हुए पौधरोपण के मद्देनजर कही।  श्रीमती जैन ने कहा कि वृक्षारोपण मात्र एक दिवसीय गतिविधि और दिखावा मात्र बनकर न रह जाए।  हम सभी को प्रयास करने होंगे कि हम अपने द्वारा रोपे गए पौधे को न केवल पल्ल्वित होकर विशालता को प्राप्त करते हुए देखें बल्कि पूर्ण परिपक्व वृक्षों को कटने से बचाने में भी अपनी पूर्ण सहभागिता प्रदान करें ताकि यह हरियाली हमारे स्वस्थ्य भविष्य की आधारशिला बन सके। 

समाजसेवी हेमलता जैन रचना ने कहा कि हमारी आने वाली पीढ़ियां हम पर, हमारे प्रयासों पर नाज कर सकें और कृत्रिम ऑक्सीजन की कतई मोहताज ना रहें। धरा पर पेड़ ही ऑक्सीजन का एकमात्र स्त्रोत हैं। उन्होंने कहा कि प्रकृति से प्राप्त प्राणवायु के बदले हम सभी वृक्षों को प्रस्फुटित, पल्ल्वित और संरक्षित करके ही धरती माता के इस अनमोल ऋण को चुका सकते हैं। सनद रहे कि इनके जीवन में ही स्वयं आपका जीवन स्वस्थ्य और सुरक्षित है। एक नन्हें बालक की तरह पेड़-पौधों को अपने स्नेह की ऊष्मा दीजिये ताकि यह विशाल वृक्ष बनकर न सिर्फ हम सभी को बल्कि हमारी आने वाली कई पीढ़ियों को प्राणवायु प्रदान कर उपकृत करते रहें। हेमलता जैन रचना ने प्रदेश की जनता को इस अवसर पर एक नारा "आइये वृक्ष लगायें हम, अपना जीवन बचायें हम" भी दिया, ताकि लोगों को प्रेरणा मिलती रहे।

Comments

Popular posts from this blog

मंत्री भदौरिया पर भारी अपेक्स बैंक का प्रभारी अधिकारी

"गंगाराम" की जान के दुश्मन बने "रायसेन कलेक्टर"

भोपाल, उज्जैन और इंदौर में फिर बढ़ाया लॉकडाउन