एक्शन मोड़ में परिवहन मंत्री श्री राजपूत, अवैध वसूली के आरोप पर नपे दो परिवहनकर्मी



-शिकायत के बाद एक सब इंस्पेक्टर और एक कांस्टेबल को मुख्यालय अटैच किया

भोपाल। प्रदेश के राजस्व एवं परिवहन मंत्री गोविंद सिंह राजपूत शनिवार को एक्शन मोड़ में नजर आए। सागर जिला मुख्यालय के नेशनल हाईवे पर वाहन चालकों से अवैध वसूली किए जाने के आरोप पर परिवहन विभाग के संभागीय उड़नदस्ता सागर में पदस्थ एक उप निरीक्षक अनिमेष जैन एवं आरक्षक शिवम शर्मा को वहां से हटाकर मुख्यालय अटैच करने के निर्देश परिवहन आयुक्त को शनिवार को दिए, जिस पर अमल करते हुए परिवहन आयुक्त मुकेश जैन ने तुरन्त आदेश जारी कर दिया है। इन दोनों पर सागर जिले में अवैध वसूली का गंभीर आरोप लगने के बाद परिवहन मंत्री ने यह कार्रवाई की है। प्रदेश में सुशासन स्थापित करने के लिए मुख्यमंत्री के साथ कंधा से कंधा मिलाकर चलने वाले परिवहन एवं राजस्व मंत्री गोविंद सिंह राजपूत ने गत दिवस ही विभागीय समीक्षा बैठक में अफसरों को दो टूक निर्देश दिए थे कि जनता को होने वाली असुविधा को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। दरअसल शुक्रवार को सागर जिले में गुड़ा गांव के पास फोर लाइन पर 5 घंटे तक जाम लग गया था। आगरा के नगला गांव के रहने वाले ट्रक चालक दरियाव सिंह ने आरोप लगाया था कि शुक्रवार 10 बजे जब वह गुड़ा गांव के पास से निकले तभी सादी वर्दी में आरटीओ के लोग चैकिंग कर रहे थे। उनको दिखा नहीं और उन्होंने ट्रक नहीं रोका। तभी पीछे से फोर व्हीलर में आए आरटीओ के लोगों ने न केवल मारपीट की बल्कि शर्ट में रखे दो हजार रूपये भी छीन लिए। इस कार्रवाई से नाराज होकर ट्रक ड्राइवरों ने फोरलेन के दोनों ओर 15 किलोमीटर लंबा जाम लगा दिया था। चार थानों के साथ प्रशासनिक अधिकारी मौके पर पहुंचे। लेकिन ट्रक चालक अपनी मांग पर अड़े रहे। मामला जैसे ही परिवहन मंत्री गोविंद राजपूत और परिवहन आयुक्त मुकेश जैन की जानकारी में पहुंचा उन्होंने तुरंत पूरे मामले की जानकारी ली और प्राथमिक जांच के बाद परिवहन संभागीय उड़नदस्ता सागर में पदस्थ उप निरीक्षक अनिमेष जैन एवं आरक्षक शिवम शर्मा को मुख्यालय में अटैच करने की कार्रवाई की।

Comments

Popular posts from this blog

विभा श्रीवास्तव ने जताया मुख्यमंत्री और स्वास्थ्य मंत्री का आभार

21 को साल की सबसे लम्बी रात के साथ आनंद लीजिये बर्फीले से महसूस होते मौसम का

मानदेय में बढ़ोतरी पर आशा कार्यकर्ताओं एवं सहयोगियों में खुशी की लहर