स्वीप- 2022 में महिला उद्यमियों ने ख्याति प्राप्त अंतर्राष्ट्रीय एवं राष्ट्रीय स्पीकर से सीखे सफलता के गुर



देश की महिला उद्यमियों ने एग्जीबिशन में लगाए है 100 से ज्यादा स्टॉल, विजिटर्स की ओर से मिल रहा शानदार रिस्पॉन्स
स्वीप 2022 का 26 मार्च को है अंतिम दिन, सभी के लिए निःशुल्क है एग्जीबिशन

भोपाल। मावे द्वारा आयोजित अंतर्राष्ट्रीय महिला उद्यमी सम्मेलन स्वीप- 2022 का शुक्रवार को दूसरा दिन था। सम्मेलन में शामिल महिला उद्यमियों की संख्या और उनके उत्साह ने बताया कि यह अंतरराष्ट्रीय आयोजन अपनी सफलता की ओर अग्रसर है। 25 मार्च को महिला उद्यमियों के साथ विशेषज्ञों और नेटवर्क से सीखने के लिए कॉन्फ्रेंस एवं वर्कशॉप का भी आयोजन किया गया। इस दौरान महिला उद्यमियों ने सफलता के गुर भी सीखे। मावे द्वारा आयोजित स्वीप- 2022 को एमएसएमई मंत्रालय भारत सरकार, एमएसएमई मंत्रालय मप्र सरकार, मप्र राज्य औद्योगिक विकास निगम लिमिटेड, मप्र टूरिज्म एवं अन्य के सहयोग से आयोजित किया जा रहा है। यह सम्मेलन कुशाभाऊ ठाकरे हॉल (मिंटो हॉल) में आयोजित किया जा रहा है। 

मावे अध्यक्ष अर्चना भटनागर ने कहा कि, कई महिला उद्यमी किसी इंडस्ट्रियल एरिया में नहीं जा पाती है, वे अपने घरों से काम करती हैं और इस दौरान उन्हें बहुत सारी परेशानियों का सामना भी करना पड़ता है। इसी बात को ध्यान में रखते हुए हमारी पूरी टीम द्वारा सरकार को कई वर्षों से एक मल्टी स्टोरी फ्लेटेट फ़ैक्ट्रिस कॉम्प्लेक्स का सुझाव दिया गया था। जिसके अंतर्गत एक ऐसा कमर्शियल कॉम्प्लेक्स बनाया जाए जहां हर फ्लोर पर करीब 1000 से लेकर 2000 स्क्वेयर फिट की सेल्स स्पेस महिला उद्धमियों को दी जा सके। इन स्पेस के माध्यम से वे महिला उद्धमी मेनुफेक्चरिंग कर सकती है या अपनी सर्विसेज के ऑफिसेज शुरू कर सकती है। यानी एक ही कॉम्प्लेक्स में बहुत सारी महिला उद्धमी अपने अलग-अलग व्यवसाय को संचालित कर सकती है। इसी मांग को ध्यान में रखते हुए स्वीप-2022 में  मुख्यमंत्री ने जबलपुर में ऐसा पहला कॉम्प्लेक्स बनाने की घोषणा की है, यह बहुत ही सराहनीय कदम है। हम सभी मुख्यमंत्री के प्रति आभारी है।



एग्जीबिशन का है आज अंतिम दिन 

स्वीप- 2022 के अंतर्गत एग्जीबिशन में देशभर के 14 प्रदेशों की महिला उद्यमियों ने अपने लगभग 100 स्टॉल प्रस्तुत किए हैं। एग्जीबिशन में आउटफिट्स, कॉस्मेटिक, ज्वेलरी, हैंडीक्राफ्ट्स प्रोडक्ट्स, ग्रीन प्रोडक्ट्स, होम डेकोर और हाइजीन प्रोडक्ट्स के बेहतरीन कलेक्शन देखने को मिल रहे हैं। इस एग्जीबिशन में भोपाल ही नहीं बल्कि बाहर से आए सभी ग्राहकों की ओर से शानदार रिस्पॉन्स मिल रहा है। शनिवार को इस एग्जीबिशन का अंतिम दिन है। एग्जीबिशन में प्रवेश पूरी तरह निःशुल्क है। 



मप्र में इन्वेस्टमेंट के अवसर पर बोलते हुए श्री जॉन ने कहा कि, मैं इस अवसर के लिए मावे को धन्यवाद देना चाहूंगा। मध्यप्रदेश में 50 प्रतिशत जनसंख्या इन्वेस्टमेंट मार्केट से जुड़ चुकी है। समय के साथ ही मप्र की देशभर के राज्यों से ट्रांसपोर्टेशन की कनेक्टिविटी बेहतर हो गई है। साथ ही यहां ऑटोमोबाइल और इंजीनियरिंग जैसे सेक्टर को बड़ा अवसर मिला है। मध्यप्रदेश फूड सेक्टर में भी काफी आगे बढ़ गया है। फार्मा कंपनियों और गारमेंट सेक्टर के लिए भी प्रदेश में कई बड़े अवसर मौजूद है। एंटरप्रेन्योर्स के लिए मध्यप्रदेश में कई अवसर है, जिसमें कई तरह के सेक्टर्स में स्टार्टअप करके इन्वेस्टमेंट किया जा सकता है।



इस अवसर पर पारुल सोनी फाउंडर एंड सेक्रेटरी जनरल, एसोसिएशन ऑफ बिजनेस वुमन इन कॉमर्स एंड इंडस्ट्री, इंडिया ने कहा कि, सभी उद्धमियों को इन्वेस्टमेंट को लेकर मप्र में कई अवसर मिल सकते हैं। लेकिन इन्वेस्टमेंट को लेकर आपको भरोसा बनाना होगा और अपने अवसर को परखना होना। आप चाहे कितना भी इन्वेस्टमेंट कर रहे हो यदि पैसा डूबता है तो हार मत मानिए। उस हार से एक सीख लेकर आगे बढ़िए।

इजिप्ट से आई डॉ ओमनिया ने कहा कि, महिला उद्यमियों को शुरुआत में कई संघर्षों का सामना करना पड़ता है, उन्हें आज के समय में मजबूत बनना होगा। मैं स्वीप का धन्यवाद करना चाहूंगी जिन्होंने महिला उद्यमियों को ये खास अवसर दिया है। आज दुनियाभर में महिला उद्यमी अपनी सफलता की ओर बढ़ रही है। समाज में उन्हें एक अलग पहचान मिली है। दुनियाभर में महिलाओं के लिए कई बड़े अवसर सामने आ रहे हैं।

श्रुति रेड्डी फाउंडर, अंत्येष्टि फ्यूनरल सर्विसेज ने कहा कि, महिला उद्यमियों को आज के समय में कई तरह के अवसर मिल रहे हैं। बिजनेस के सेक्टर को लेकर कई नए स्टार्टअप के अवसर हर रोज मिल रहे हैं।बिजनेस में पैसों के पीछे मत भागो, ग्राहक की जरूरत के पीछे भागेंगे तो पैसा अपने आप आएगा, यह बात हर एक उद्यमी को समझनी चाहिए। सभी महिला उद्यमियों को आज एकजुट होकर और समझदारी से इन्वेस्टमेंट और बिजनेस के सेक्टर में आगे बढ़ना होगा।



25 मार्च को स्वीप- 2022 में एक शानदार फैशन शो का भी आयोजन किया गया। फैशन शो 'नौ-रंग' में मावे की मेंबर्स द्वारा तैयार किए गए परिधानों और ज्वेलरी को शहर की मॉडल्स के द्वारा प्रस्तुत किया गया। इस फैशन शो में करीब 25 मॉडल द्वारा प्रदेश और देश के डिजाइनर्स की क्रिएटिविटी को प्रस्तुत किया गया, जिसे वहां उपस्थित सभी दर्शक समूह द्वारा सराहा गया। फैशन शो की कोरियोग्राफी शैंकी सिंह राठौड़ द्वारा की गई। मावे ग्लोबल अचीवमेंट अवार्ड में विश्व भर से आई ख्याति प्राप्त महिला उद्यमियों का सम्मान हुआ। अवार्ड प्राप्त करने वाली शख्सियतों के नाम ये रहें- 

मावे ग्लोबल अचीवमेंट अवार्ड : 

 शानू मेहता को-फाउंडर एमएमसी कन्वर्ट, इंडिया, डॉ ओमनिया फहमी इजिप्ट प्रेसिडेंट, मसिराह डेवलपमेंट फाउंडेशन, एरो लिलियन ओलोक फाउंडर डायरेक्टर, नामुगोंग गुड समैरिटन आर्गेनाइजेशन, नाइजीरिया, नसरीन अवल फाउंडर प्रेसिडेंट, वुमन एंटरप्रेन्योर्स एसोसिएशन ऑफ बांग्लादेश, शैरा सलीम प्रेसिडेंट, वुमन एंटरप्रेन्योर्स एसोसिएशन ऑफ मालदीव को दिया गया ।

मावे अचीवमेंट अवार्ड :

 एशथ इब्राहिम, किरण बोरो, निशा नायर, रश्मि चोपड़ा, शिमला अहमद, सिबामोनी बोरा, सुलताना आज़ाद, वंदना व मोनिका अग्रवाल को दिया गया।

वुमन ऑफ एमिनेंस :

रत्नप्रभा प्रेसिडेंट उबुन्तु कंसोर्टियम इंडिया, डॉ मरियम शकीला प्रेसिडेंट मालदीव वुमन चेम्बर ऑफ कॉमर्स एंड अड्डू वुमन एसोसिएशन को दिया गया।

Comments

Popular posts from this blog

विभा श्रीवास्तव ने जताया मुख्यमंत्री और स्वास्थ्य मंत्री का आभार

21 को साल की सबसे लम्बी रात के साथ आनंद लीजिये बर्फीले से महसूस होते मौसम का

मानदेय में बढ़ोतरी पर आशा कार्यकर्ताओं एवं सहयोगियों में खुशी की लहर