कांग्रेस ने भरी हुंकार, किया राजभवन घेराव-विशाल मार्च



कांग्रेसजन छाती ठोक कर जनता से कहें कि हमने 15 महीने में अपनी नीति और नियत का परिचय दिया : कमलनाथ

कांग्रेस बोली, प्रदेश से हटाओ निकम्मी भाजपा सरकार, महंगाई, बेरोजगारी, महिला अपराध, किसानों के साथ छल और ध्वस्त कानून व्यवस्था से आमजन बेहाल

पुलिस ने प्रदर्शनकारियों पर वाटर केनन चलाई, किया लाठीचार्ज, सैकड़ों कार्यकर्ता हुए घायल

भोपाल। सरकार की तरह विपक्ष भी अब चुनावी मोड़  में आ गई है। सोमवार को सदन से लेकर सड़क तक कांग्रेस ने सरकार के खिलाफ जमकर विरोध प्रदर्शन कर बता दिया है कि अब प्रदेश की जनता को राज्य सरकार बहुत दिन गुमराह नहीं कर सकती है। इस विरोध की खास बात यह रही कि सड़क से सदन तक पूरी कांग्रेस एक माला में गूठी हुई नजर आई। सोमवार को मप्र कांग्रेस द्वारा प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ के नेतृत्व में प्रदेश की भ्रष्ट निकम्मी, जनविरोधी भाजपा सरकार के खिलाफ प्रदेश स्तरीय राजभवन घेराव और विशाल मार्च आयोजित किया गया। इस घेराव-पैदल मार्च में कांग्रेस के सभी वरिष्ठ नेताओं सहित प्रदेश भर से लाखां की संख्या में कार्यकर्ता भोपाल पहुंचे। कांग्रेस का घेराव कार्यक्रम जवाहर चौक से प्रारंभ हुआ, जनसभा के बाद सभी कांग्रेसजनों ने राजभवन का घेराव करने के लिए पैदल मार्च किया। रोशनपुरा चौराहे के पहले ही कांग्रेसजनों को रोक लिया गया, जहां राजभवन के अधिकारियों को भाजपा सरकार की जनविरोधी नीतियों सहित अन्य मुद्दों को लेकर वरिष्ठ कांग्रेस नेताओं की अगुवाई में ज्ञापन सौंपा गया।
श्री कमलनाथ ने घेराव-पैदल मार्च का नेतृत्व करते हुये प्रदेश भर से आये नेतागणों, कांग्रेसजनों, जिन्होंने 18-20 साल तक कांग्रेस का झंडा उठाया, उनकी निष्ठा उन्हें यहां खींचकर लायी है, जिन्होंने मुझे बल और शक्ति दी। उन्होंने कहा कि यहां कोई पुरस्कार नहीं मिल रहा कोई ठेका नहीं मिल रहा कोई कमीशन नहीं मिल रही, यह तो आपकी निष्ठा है जो आपको यहां पर खींच कर लाई है, और सबसे बड़ी परीक्षा अगले छह महीनों में आपकी निष्ठा की है। श्री नाथ ने कहा कि मुझे पूरा विश्वास है कि अगर आप सबने अपनी कमर कस ली तो हमें कोई नहीं रोक सकता, यह कांग्रेस के भविष्य की बात नहीं है, किसी उम्मीदवार के भविष्य की बात नहीं है, यह मध्यप्रदेश के भविष्य की बात है कि कैसा मध्य प्रदेश हम चाहते हैं।


आज मध्यप्रदेश का हर वर्ग परेशान

श्री नाथ ने कहा कि आज मध्यप्रदेश का हर वर्ग परेशान है, हमारा भटकता हुआ नौजवान दुखी है, किसान खाद-बीज के लिए भटक रहा है, हमारा छोटा व्यापारी परेशान है, महिलाओं पर अत्याचार चरम पर है, आज सब वर्ग परेशान हैं। आपका कर्तव्य है, आपकी जिम्मेदारी है कि आप सब मिलकर मध्यप्रदेश को सही पटरी पर लाएं और आगे आने वाली पीढ़ियों को हम ऐसा मध्यप्रदेश दे, जो देश में एक उदाहरण बने। उन्होंने कहा कि आपको अपना सिर नहीं झुकाना है, छाती ठोक कर कहे कि 15 महीनों में कांग्रेस ने अपनी नीति और नीयत का परिचय दिया और प्रदेश को विकास की पटरी पर लाने की शुरूआत की। लेकिन कुछ जयचंदों से मिलकर लोकतंत्र की हत्या कर शिवराज सिंह ने पीछे के दरवाजे से तिकड़मबाजी कर हमारी सरकार गिरा दी।

संवैधानिक संस्थाओं की छवि कर रहे धूमिल

श्री नाथ ने कहा कि भाजपा सरकार द्वारा उद्योगपति गौतम अडानी के पक्ष में अपनायी गई क्रोनी कैपीटलिज्म की नीति से गहराये उत्पन्न आर्थिक संकट से गरीब और मध्यम वर्ग के करोड़ों भारतीयों की बचत जोखिम में तब्दील हो गई है। देश में बेहताशा बढ़ती हुई महंगाई, प्रदेश में व्याप्त बेरोजगारी, तनावग्रस्त किसान, अनुसूचित जाति-जनजाति, पिछड़ा वर्ग, अल्पसंख्यक वर्ग और महिलाओं पर हो रहे निरंतर व उत्तरोत्तर अत्याचार, बलात्कार-सामूहिक बलात्कार और उसके बाद उनकी निर्मम हत्याओं, ध्वस्त कानून व्यवस्था, लूट, डकैती सहित भाजपा सरकार की गलत नीतियां के कारण आमजन परेशान है। भाजपा और संघ विचारधारा संवैधानिक संस्थाओं का दुरूपयोग और उनकी छवि धूमिल करने पर आमादा है। 
श्री नाथ ने कहा कि यदि आपने अपनी निष्ठा का परिचय से दिया तो मुझे पूरा विश्वास है आगामी विधानसभा चुनाव में आप सब कांग्रेस का झंडा लेकर मध्यप्रदेश की विधानसभा पर लहराएंगे। 

दिग्गज पार्टी नेताओं ने भी किया सम्बोधित

हजारों की संख्या में एकत्र कार्यकर्ता जो जवाहर भवन से कूच करते हुए रोशनपुरा जा रहे थे तो शिवराज सरकार के इशारे पुलिस बल द्वारा नेताओं और कार्यकर्ताओं पर भारी भरकम वॉटर केनन कर पानी की बौछार की गई और बर्बरतापूर्वक लाठी चार्ज भी किया गया जिससे कई कार्यकर्ता घायल हुये।
कार्यक्रम को अभा कांग्रेस के महासचिव प्रदेश प्रभारी जे.पी. अग्रवाल, मप्र विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष डॉ. गोविंद सिंह, पूर्व केंद्रीयमंत्रीगण सुरेश पचौरी, कांतिलाल भूरिया, अरूण यादव, मीनाक्षी नटराजन, अजयसिंह राहुल भैया, मुकेश नायक, पी.सी. शर्मा, जीतू पटवारी, महेन्द्र जोशी, शोभा ओझा, अभय दुबे, मोर्चा संगठनों के अध्यक्ष योगेश यादव, श्रीमती विभा पटेल, विक्रांत भूरिया और आशुतोष चौकसे ने भी संबोधित किया। 
कार्यक्रम में वरिष्ठ नेतागण पूर्व मंत्री सज्जन सिंह वर्मा, आरिफ अकील, विजयलक्ष्मी साधो, जयवर्धन सिंह, कमलेश्वर पटेल, विधायक आरिफ मसूद, कुणाल चौधरी प्रदेश कांग्रेस के पदाधिकारीगण सुरेंद्र चौधरी, राजीव सिंह, प्रकाश जैन, जे.पी. धनोपिया, डॉ. महेन्द्र सिंह चौहान, राजकुमार पटेल, मीडिया विभाग के अध्यक्ष के.के. मिश्रा, उपाध्यक्ष संगीता शर्मा, विधायकगण, सभी प्रकोष्ठों के प्रदेश अध्यक्ष, मीडिया विभाग के पदाधिकारी, प्रवक्तागण सहित बड़ी संख्या में कांग्रेस पदाधिकारी और प्रदेश भर से आये कार्यकर्ता उपस्थित थे। 

Comments

Popular posts from this blog

उपहार की गर्मजोशी से खिले गरीबों के चेहरे

चर्चा का विषय बना नड्डा के बेटे का रिसेप्शन किट

लंका पर भारत की विराट जीत, सेमीफाइनल में पहुंचा