सृजन ग्रुप ने बाल दिवस पर हमीदिया में मृत मासूमों को दी श्रद्धांजलि



-प्रदेश में फायर एक्ट लागू हो और इससे संबंधित कड़े कानून बने : प्रीति खरे

भोपाल। सृजन ग्रुप ने बाल दिवस पर उन मासूमों को श्रद्धांजलि दी, जो दुनिया देखने से पहले ही भ्रष्टाचार और गैर जिम्मेदार अधिकारियों की वजह से मौत की नींद सो गए। सृजन ग्रुप संस्था की संस्थापक प्रीति खरे ने अपने ग्रुप के माध्यम से सरकार से य़ह गारंटी चाही है कि इस अग्निकांड बनाम हत्याकांड के बाद आने वाले समय में ऐसे कोई कांड न हो। प्रीति ने कहा कि प्रदेश में फायर एक्ट लागू हो और इससे संबंधित कड़े कानून बने। सरकारी अस्पतालों में भी प्राइवेट अस्पतालों की तरह कड़ी से कड़ी सजा व दोषी पाने पर निलंबन का प्रावधान हो। उन्होंने कहा कि हर अस्पताल में फायर सर्विस विंग हो, जो सभी अग्नि शामक उपकरणों के रख रखाव, इस्तेमाल इत्यादि  की पूर्ण जानकारी व प्रशिक्षण सम्बन्धी कार्य करें। ऐसी आपदा से जूझने और बचाव का प्रशिक्षण समय समय पर हो। ऐसी ही कई मांगों के साथ हस्ताक्षर अभियान जारी रहेगा व भोपाल वासियों की मांगों के साथ य़ह ज्ञापन कलेक्टर व राज्यपाल जी को सौपा जाएगा। 



हस्ताक्षर अभियान में आज सृजन ग्रुप की तरफ से जानीमानी लेखिका पूर्णिमा वर्मा, रितु माथुर, रोली पाठक,  ज्योति खरे, मीनू, आस्था द्वेवेदी, रुचिका सचदेवा,  रवि पाराशर, अतुल शर्मा, संतोष सोनी, आरुष व प्रणव उपस्थित हुए। इस दौरान 400 से अधिक लोगों ने हस्ताक्षर कर अपना आक्रोश प्रदर्शित किया।

Comments

Popular posts from this blog

मंत्री भदौरिया पर भारी अपेक्स बैंक का प्रभारी अधिकारी

"गंगाराम" की जान के दुश्मन बने "रायसेन कलेक्टर"

भोपाल, उज्जैन और इंदौर में फिर बढ़ाया लॉकडाउन