अक्षम अफसरों की सेवा समाप्त करेगी सरकार


जनता को बेहतर परिणाम देने की कवायद में जुटी कमल नाथ सरकार


भोपाल। राज्य सरकार द्वारा आमजन को शासकीय कार्यों एवं जनहितकारी योजनाओं के क्रियान्वयन में कम समय में बेहतरीन परिणाम देने की कवायद में जुट गई है। सरकार इज़के लिए 30-50 का फार्मूला तैयार कर उन कर्मचारियों एवं अफसरों की कुंडली खंगालने में जुट गई है जिनके वजह से कार्य गति नहीं पकड़ पा रहा है। इसी तारतम्य में मुख्यमंत्री कमल नाथ ने आज सभी विभागों को निर्देश देते हुए कहा है कि शासकीय कार्यों के क्रियान्वयन में बेहतर दक्षता आवश्यक है। जिससे जनता के काम समय पर हो। इसलिये यह अति आवश्यक है कि ऐसे अधिकारियों को हटाया जाय जो अक्षम है अथवा अक्षमता के साथ कार्य करते हैं। इसके लिए 20 वर्ष की सेवा अथवा 50 वर्ष की उम्र पूरा करने वाले अधिकारी की समीक्षा करने के प्रावधान है। मुख्यमंत्री ने कहा कि यह सुनिश्चित करें कि उन प्रावधानों के तहत प्रत्येक विभाग अपने अधिकारियों की समीक्षा अगले 30 दिवस में पूरा करें और जिन्हें अयोग्य पाया जाता है, उनकी सेवायें समाप्त करने का निर्णय लें। मुख्यमंत्री ने इस प्रक्रिया की सघन मॉनिटरिंग करने और 30 दिवस के अंदर परिणामों से अवगत कराने के निर्देश दिए हैं।


Comments

Popular posts from this blog

मंत्री भदौरिया पर भारी अपेक्स बैंक का प्रभारी अधिकारी

"गंगाराम" की जान के दुश्मन बने "रायसेन कलेक्टर"

भोपाल, उज्जैन और इंदौर में फिर बढ़ाया लॉकडाउन