Posts

Showing posts from December, 2019

प्लाट बेचने के नाम पर की धोखाधड़ी, अब नहीं लौटा रहा राशि

Image
मदन सिंह चौहान की गाढ़ी कमाई के साढ़े चार लाख डूबे, एसपी से लेकर मुख्यमंत्री तक शिकायत, नहीं मिल रहा न्याय भोपाल। प्रदेश सरकार ने अतिक्रमण के विरूद्ध भले ही अभियान छेड़ रखा हो पर अभी भी राज्य के विभिन्न जिलों में भूमि बेंचने के नाम पर की जाने वाली धोखाधड़ी कम होने का नाम नहीं ले रही है। ऐसा ही एक मामला सीहोर जिले की बुधनी तहसील के सामने आया है जहां प्लाट खरीदने के नाम पर मदन सिंह चौहान की साढ़े चार लाख की गाढ़ी कमाई डूब गई है। मदन को अब न प्लाट मिल रहा, न दी गई राशि वापस मिल रही है।                           इस सम्बंध में मिली जानकारी के अनुसार सीहोर जिले के बुधनी तहसील के ग्राम सत्रामऊ मदन सिंह चौहान ने        सुखीसेवनियाँ ओमकारा जिला भोपाल निवासी खूबचंद कुशवाहा को प्लॉट खरीदने के नाम पर 4 लाख 50 हजार की राशि दी। मदन सिंह चौहान ने उक्त राशि चार गवाहों बलराम सिंह चौहान, जितेंद्र सिंह चौहान, राजकुमार सिंह चौहान एवं गिरिजाशंकर दुबे के मौजूदगी में दी है। राशि मिलने के बाद से खूबचंद कुशवाहा की नियति खराब हो गई है। अब वह न राशि लौटा रहा न मदन सिंह को  प्लॉट दे रहा है। अपनी गाढ़ी कमाई डूबते देख म

कहाँ गया भाजपा का वसुधैव कुटुम्बकम ?

Image
भूपेन्द्र गुप्ता भारतीय संस्कृति और सनातन धर्म के प्रतिनिधि श्लोक "वसुधैव कुटुम्बकम" को हमेशा आदर के साथ दोहराया जाता रहा है। भारतीय संस्कृति और धर्म दर्शन की इससे अच्छी अभिव्यक्ति संभव नहीं है।  अयं निजः परो वैति गणना लघुचेतसाम्  उदारचरितानांतु वसुधैव कुटुम्बकम् ॥ इसका अर्थ है– यह अपना है यह पराया है ऐसा आकलन छोटे दिल वालों का होता है। उदार चरित्र वालों के लिए तो पूरी पृथ्वी ही उनका कुटुम्ब होती है। भाजपा के लगभग सभी नेता यह श्लोक दोहराते रहे हैं और भारतीय संस्कृति का गुणगान करते रहे हैं लेकिन  नागरिक संशोधन कानून लागू होने से अब क्या भाजपा नेता और राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ अपने  को उदार चरित्र साबित कर पाएंगे? भाजपा ने यह साबित कर दिया कि उसको सनातन धर्म के सिद्धांतों और उदात्त विचारों से कोई लेना देना नहीं है। वह शुद्ध रूप से एक फासीवादी राजनीतिक पार्टी है जो धर्म ,  अध्यात्म और संस्कृति को नहीं मानती । नागरिक संशोधन कानून से भाजपा का वैचारिक धरातल खत्म हो गया है। अब वह शुद्ध रूप से हिंदूवादी पार्टी भी नहीं रही। भाजपा ने वसुधैव कुटुंबकम् के दर्शन को पोटली में बांधकर ताक

ग्लोबल हर्बल ट्रेड में मध्यप्रदेश निभा सकता है बड़ी भूमिका

Image
भोपाल । वैश्विक हर्बल व्यापार और दवा बाजार में भारत की स्थिति मजबूत करने में मध्यप्रदेश महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकता है। वैश्विक हर्बल व्यापार अब 120 बिलियन अमेरिकी डॉलर तक पहुंच गया है। भारत का हर्बल उत्पाद निर्यात 456 मिलियन अमेरिकी डॉलर को छू गया है, लेकिन यह मध्यप्रदेश जैसे वन सम्पदा संपन्न राज्य के होते हुए और भी ज्यादा बढ़ सकता है। यह तथ्य भोपाल में इंटरनेशनल हर्बल फेयर-2019 शामिल हुए प्रतिभागियों से साक्षात्कार के बाद सामने आया है। प्रतिभागियों में हर्बल उत्पाद, आयुर्वेदिक दवा निर्माण कंपनियों, लघु वनोपज की जिला प्राथमिक सहकारी सोसायटियों के सदस्य, वनोपज इकठ्ठा करने वाले जनजातीय बंधु और पारंपरिक आयुर्वेदिक प्रणाली से जुड़े चिकित्सक शामिल थे। वैश्विक हर्बल दवा बाजार में भारतीय कंपनियों की संख्या अन्य देशों के मुकाबले ज्यादा है। विश्व स्तर पर 12 प्रमुख कंपनियों में से कम से कम पांच प्रमुख कंपनियां भारत की हैं। इनमें हिमालय ड्रग कंपनी, झंडू फार्मास्यूटिकल्स वर्क्स लिमिटेड, डाबर लिमिटेड, हमदर्द लेबोरेटरीज और पतंजलि आयुर्वेदिक लिमिटेड शामिल हैं। अन्य नामी कंपनियों में जर्मनी की श्वाबे,

अफवाह के नाम पर देश की ब्लैकमेलिंग कब तक

Image
भोपाल। नागरिकता कानून को लेकर देश में कई जगहों पर प्रदर्शन हो रहे हैं। सरकार के खिलाफ अपने गुस्से का इजहार करने के लिए और इस विरोध का राजनीतिक फायदा लेने के लिए लोग सड़कों पर उतरे हैं। देश के कई हिस्सों में प्रदर्शन की वजह से आम जनजीवन बुरी तरह से प्रभावित हुआ। शिक्षक एवं सामाजिक कार्यकर्ता ओमिता पार्थो दास ने सवाल उठाया है कि सड़कें जाम हो रहीं, कई मेट्रो ट्रेन के स्टेशन को बंद कर दिया गया। देश के नागरिकों को संविधान ने विरोध प्रदर्शन का अधिकार दिया है लेकिन विरोध शांतिपूर्ण रहे इस बात का ख्याल रखना प्रदर्शनकारियों का दायित्व है। लेकिन प्रदर्शनकारियों ने विरोध प्रदर्शन के नाम पर सभी सीमाओं को तोड़ दिया। ओमिता पार्थो दास ने कहा कि पटना में एंबुलेंस में आग लगी दी। यूपी के संभल में प्रदर्शनकारियों ने बस फूंक दी। अहमदाबाद में पुलिस पर पथराव किया गया। दिल्ली में प्रदर्शन की वजह से कई इलाकों में सड़कें बंद रहीं जिससे लोग जाम में फंसे रहे इसके अलावा हंगामे की वजह से दिल्ली के कई मेट्रो स्टेशनों को बंद करना पड़ा और कई इलाकों में इंटरनेट को बंद करना पड़ा। ऐसे में ये सवाल उठता है अफवाह के नाम

विकास पथ पर निरंतर आगे बढ़ता मध्यप्रदेश का लोक निर्माण

Image
जनभागीदारी से  पर्यावरण में पाएंगे एक नया मुकाम, विजन 2020 प्रस्तुत भोपाल।  विधानसभा भवन में लोक निर्माण एवं पर्यावरण मंत्री सज्जन सिंह वर्मा ने अन्य मंत्रीगणों के साथ कांग्रेस सरकार के एक वर्ष पूर्ण होने पर लोक निर्माण एवं पर्यावरण विभाग के अंतर्गत हासिल की गई कई महत्वपूर्ण उपलब्धियां तथा आगामी वर्ष की कार्य योजना “विज़न 2020” मीडिया के समक्ष प्रस्तुत की। वर्मा ने बताया कि लोक निर्माण विभाग द्वारा एक वर्ष में 5434 कि .मी. लम्बाई की सड़कों का 5480 करोड़ की लागत से निर्माण कराया गया है । लोक निर्माण विभाग द्वारा वचन पत्र के बिन्दुओं के पालन हेतु सर्वोच्च प्राथमिकता पर कार्यवाही की जा रही है जिनमे से कई बिन्दुओं पर कार्य संपन्न हो चुका है । 2316 करोड़ की लागत से 1775 कि.मी. सड़कों का योजना मद में निर्माण,   683 कि.मी. सड़कों में 308 करोड़ की लागत से मजबूतीकरण किया गया है।  लगभग 1800 किमी सड़कों के नवीनीकरण का कार्य 174 करोड़ की लागत से किया गया। इसके अलावा 29 वृहद पुलों का निर्माण 318 करोड़ की लागत से किया गया है। न्यू डेवलपमेंट बैंक से 500 मिलियन डॉलर अर्थात 3250 करोड़ का ऋण प्राप्त कर कुल 82 म

चुनौतीपूर्ण समय में तकनीक का उपयोग कर उचित प्रबंधन करें: पाण्डेय

Image
आरक्षक से उपनिरीक्षक स्तर के 76 पुलिसकर्मियों को डायल-100 का दो दिवसीय प्रशिक्षण भोपाल । वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक (रेडियो) साकेत प्रकाश पाण्डेय ने कहा कि आधुनिक युग के चुनौतीपूर्ण समय में तकनीक का उपयोग कर पुलिसबल का और भी उचित प्रबंधन किया जा सकता है तथा समय की बचत की जा सकती है । पाण्डेय पुलिस दूरसंचार मुख्यालय में प्रदेश के 31 जिलों से आए आरक्षक से सहायक उपनिरीक्षक स्तर के 76 पुलिसकर्मियों के दो दिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम के समापन को संबोधित कर रहे थे। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक (रेडियो) साकेत प्रकाश पाण्डेय एवं पुलिस अधीक्षक डायल-100 बीना सिंह द्वारा प्रशिक्षण कार्यक्रम का समापन किया गया । पाण्डेय ने निर्देशित किया कि प्रशिक्षण में आए सभी पुलिसकर्मी अपने-अपने थानों में जाकर डायल.100 इंटीग्रेटेड पोर्टल के माध्यम से उनके क्षेत्र के अंतर्गत आने वाली एफ़आरव्ही. व्दारा की जाने वाली कार्रवाई की सतत निगरानी रखें एवं की गई कार्रवाई का फीडबैक दर्ज करें। प्रशिक्षण उपरांत पाण्डेय द्वारा प्रशिक्षणार्थियों को प्रमाणपत्र प्रदान कर उन्हें प्रोत्साहित किया गया । समापन कार्यक्रम में उपपुलिस अधीक्षक डायल-1

कांग्रेस की रैली के बाद क्यों शुरू हुआ उपद्रव: तिवारी

Image
दिल्ली बीजेपी अध्यक्ष बोले, सीएए से मुस्लिमों को कोई खतरा नहीं  नई दिल्ली। दिल्ली बीजेपी अध्यक्ष मनोज तिवारी ने कहा है कि नागरिकता संशोधन कानून से मुस्लिमों को कोई खतरा नहीं है। सीएए से भारत के मुसलमानों का क्या लेना देना? इससे अगर उन पर कोई असर पड़ता तो जिस दिन बिल पास हुआ उसी दिन विरोध शुरू हो जाता। यह सब तो शुरू हुआ है रामलीला मैदान में हुई कांग्रेस की रैली के बाद। मैं सवाल पूछता हूं कि आखिर रैली के बाद क्यों उपद्रव हुआ? उधर, आप अमानतुल्लाह खान का भाषण भी देखिए कि वह कितना भड़काऊ है। हम और हमारी सरकार तो समझा रहे हैं सबको। उनके अनुसार महंगाई से अधिक नागरिक संशोधन एक्ट जरूरी है। हम पाकिस्तानी हिंदुओं की पीड़ा को समझते हैं। तिवारी ने कहा कि भारत का मुस्लिम शांति पसंद हैं। कोई किसी के चक्कर में नहीं आएगा। मुसलमानों से हम हाथ जोड़कर प्रार्थना कर रहे हैं कि नागरिकता कानून को पढि़ए, किसी के बहकावे में मत आइए। तिवारी ने कहा कि मनीष सिसोदिया को झूठा विडियो प्रसारित करने के लिए गिरफ्तार किया जाना चाहिए। तिवारी ने कहा कि आम आदमी पार्टी के विधायक का भाषण लोगों ने सुना ही होगा, मैं बड़ी वेदन

तेनाली रामा में रामा ने अपनी बुद्धिमानी खोई

Image
सोनी सब का ऐतिहासिक फिक्शन शो तेनाली रामा में एक दिलचस्प मोड़ मुम्बई। पंडित रामा कृष्णा (कृष्ण भारद्वाज) की जिंदगी एक दिलचस्प मोड़ लेने वाली है। दरअसल अपनी चतुराई और बुद्धिमानी के लिये मशहूर रामा जल्दे ही अपनी बुद्धिमत्ता खोता हुआ नजर आएगा। सोनी सब का ऐतिहासिक फिक्शन शो तेनाली रामा में पंडित रामा कृष्णा अलग तरह से काम करने लगेगा। इससे पहले, भास्कर जो पंडित राम कृष्णा का भेष लिए हुए हैं, ने अपनी चतुराई का इस्तेमाल करते हुए विजयनगर के राजा के रूप में कैकला (विश्वजीत प्रधान) का सफलतापूर्वक सफाया कर दिया और राजा बालकुमारा (शक्ति आनंद) को सिंहासन पर बैठाया। जहां सारी सल्तनत इस बात से बेहद खुश हैं कि एक बार फिर राजा बालकुमारा उनके राजा है, वहीं कैकला इस बात से खासा नाराज़ है, क्योंकि पंडित रामा ने उससे उसका ख्वाब ही छीन लिया, क्योंकि पंडित रामा ने उसके ख्वाब को हकीक़त नहीं बनने दिया। ऐसे में गुस्से में कैकला अपनी हार का बदला लेने के लिए कसम खाता है कि वह पंडित रामा को विजयनगर से निकाल कर ही दम लेगा। वह, विजयनगर की रानी के साथ मिलकर एक योजना बनाता है, और इसके तहत रामा को एक दुर्लभ दवाई दे

अपारशक्ति एक बेहतर अभिनेता है जो मैं हूं: आयुष्मान खुराना

Image
मुम्बई। बॉक्स ऑफिस पर बैक-टू-बैक हिट होने के साथ, आयुष्मान खुराना बॉलीवुड के सबसे बैंकर स्टार में से एक बन गए हैं। सुपरस्टार का भाई भी अब इंडस्ट्री में लहर बना रहा है। हाल ही में आयोजित इंडिया चौपाल में अपारशक्ति के बारे में बात करते हुए, उन्होंने खुलासा किया कि उनका मानना है कि अपारशक्ति एक बेहतर अभिनेता हैं। चरित्र अभिनेता बनना और लोगों को जोडऩा बहुत मुश्किल है। अपारशक्ति ने अपनी हाल की फिल्मों में एक अद्भुत काम किया है और मुझे लगता है कि वह मुख्य अभिनेता बनने के लायक हैं।  अभिनेता ने अपनी विभिन्न शैलियों के बारे में भी खोला। उन्होंने कहा कि अपरशक्ति एक बहिर्मुखी है और उसके पीआर कौशल बहुत बेहतर हैं। मुझे लोगों को खोलने में समय लगता है। अपारशक्ति के और भी दोस्त हैं जो मेरे पास हैं। यह पूछे जाने पर कि अगर उनका पीआर कौशल बेहतर होता तो उनका संघर्ष आसान होता, अभिनेता ने कहा, संघर्ष तो होगा ही। मुझे अपनी पहली फिल्म मिल गई होगी। वास्तव में, अंधधुंध के लिए, मैंने शूजीत सरकार को बुलाया और मुझे मौका देने के लिए कहा। एक सफल अभिनेता होने के बाद भी, मैंने उस विशेष फिल्म के लिए एक स्क्रीन टेस्ट

पहली बार रैम्प वॉक पर जलवा बिखेरती नजर आएंगी बुजुर्ग महिलाएं

Image
बुजुर्ग महिलाओं के लिए आयोजित किया गया फैशन शो  'द साड़ी एडिक्शन' इंदौर। इस बात से इंकार नहीं किया जा सकता कि आज का भारतीय समाज बुजुर्गों को लेकर बहुत अधिक संवेदनशील नहीं है. आधुनिकता की तरफ तेजी भागते हुए आज बुजुर्गों की अहमियत काफी घट गई है। आज के समाज का नजरिया बुजुर्गों के प्रति पूरी तरह बदल गया है। ऐसे में उन्हें जरुरत है एक ऐसे अहसास की जो उन्हें मुख्य धारा से बिखरा हुआ और समाज से अनदेखा किया हुआ महसूस न कराए। कुछ ऐसी ही सोच के साथ अवनि पीआर एंड इवेंट्स ने एक नए प्रयास की नींव रखी है, जिसके तहत ओल्ड ऐज होम की बुजुर्ग महिलाओं को आकर्षक साड़ियों में रैम्पवॉक करने का मौका मिलेगा। मध्य प्रदेश में पहली बार बुधवार 18 दिसंबर को शाम 6 बजे से इंदौर स्थित होटल सयाजी में आयोजित फैशन शो 'द साड़ी एडिक्शन' कैंपेन में प्रदेश के वृद्धाश्रमों से आने वाली बुजुर्ग महिलाओं को रैम्प वॉक करते देखा जा सकेगा। इस आयोजन के ऑनलाइन मीडिया पार्टनर ट्रूपल.कॉम (टी-ब्रेक) हैं, जहां कार्यक्रम से जुड़ी एक्सक्लूसिव जानकारियां प्राप्त की जा सकती है। अवनि पीआर इवेंट्स द्वारा आयोजित फैशन शो, द साड़ी एडि

कमलनाथ सरकार ने एक साल में ही बदल दी मध्यप्रदेश की तस्वीर

Image
मध्यप्रदेश में 15 वर्षों बाद प्रदेश की जनता ने बड़ी उम्मीद के साथ सत्ता में परिवर्तन कर कांग्रेस के हाथ में सरकार की कमान दी। कांग्रेस के शीर्ष नेतृत्व ने प्रदेश के सबसे अनुभवी और वरिष्ठ नेता कमलनाथ जी को प्रदेश की बागडौर सौंपी। जनता की उम्मीद पर खरे उतरते हुए कमलनाथ जी ने प्रदेश के विकास की नींव पहले दिन ही रख दी थी जब उन्होंने मुख्यमंत्री पद की शपथ लेने के तुरंत बाद ही अन्नदाता किसानों के ऋण माफ करने वाली फ़ाइल पर हस्ताक्षर किये।  पूर्ववर्ती सरकार ने 15 वर्षों में एक बार भी किसानों के ऋण माफ करने के बारे में नही सोचा जबकि किसानों की तरक्की में ऋण बाधा बने हुए थे। कांग्रेस के एजेंडे में हमेशा गरीब, मज़दूर और किसान प्राथमिकता रहे हैं उसी को दृष्टिगत रखते हुए खाली खजाने के बावजूद कमलनाथ सरकार ने ऋण माफी जैसा जोखिम उठाया। ये तो मुख्यमंत्री कमलनाथ जी की दृढ़ इच्छाशक्ति और किसानों के लिए किए गए वचन के प्रति प्रतिबद्धता ही है कि उन्होंने चरणबद्ध तरीके से किसानों के फसली ऋण माफ करने की योजना पर काम किया। उन्होंने पहले चरण में करीब 20 लाख किसानों का 7154 करोड़ ₹ का ऋण माफ़ कर अपने वचन को निभाने क

पर्यावरण संरक्षण में जुटे आचार्य महामंडलेश्वर स्वामी वैराग्यानंद गिरी महाराज

Image
पर्यावरण मंत्री वर्मा को पौधा भेंट कर की संकल्प की शुरुआत भोपाल। विश्वभर में गिरते पर्यावरण और ग्लोबल वार्मिंग के असर से प्रभावित हो रहे जनजीवन के प्रति चिंतित आचार्य महामंडलेश्वर स्वामी वैराज्ञानंद गिरी महाराज (मिर्ची-बाबा) ने अब पर्यावरण के प्रति लोगों में अलख जगाने का फैसला किया है। स्वामी जी ने कहा कि उनके इस मुहिम से पर्यावरण संरक्षण को आमजन समझें व इसके लिए हर संभव प्रयास भी करेंगे। महामंडलेश्वर स्वामी वैराज्ञानंद गिरी महाराज ने अपने अभियान की शुरुआत मप्र सरकार में लोक निर्माण व पर्यावरण विभाग मंत्री सज्जन सिंह वर्मा से मुलाकात कर उन्हें आशीर्वाद स्वरूप एक पौधा भेंट कर की। इस अवसर पर उन्होंने मंत्री श्री वर्मा से प्रदेश की वर्तमान राजनीतिक, सामाजिक व धार्मिक परिदृश्य पर विशेष चर्चा की।  सवा लाख पौधे का संकल्प महामंडलेश्वर स्वामी वैराज्ञानंद गिरी महाराज ने विशेष बातचीत में बताया कि उन्होंने पर्यावरण के लिये अभी सवा लाख पौधे वितरित करने का लक्ष्य रक्षा है। उन्होंने उनसे हर मिलने आने वाले को एक पौधा भेंट करेंगे। लोक निर्माण व पर्यावरण विभाग मंत्री सज्जन सिंह वर्मा ने भी उन्हें

अगर इंसान को अमर करना है तो उसकी कहानी पर किताब छाप दो : शर्मा

Image
- दुनिया की पहली टॉकिंग गीता के द्वितीय संस्करण का विमोचन  भोपाल। लोग सच ही कहते हैं अगर इंसान को अमर करना है तो उसे किताबों का अमृत पिला दो, और उसकी सोच को अमर करना है तो उसकी कहानी पर किताब छाप दो। यह बात जनसम्पर्क मंत्री पीसी शर्मा ने भोपाल मास्टर प्रिंटर्स एसोसिएशन  के तत्वावधान में भारत में प्रिंटिग इंडस्ट्रीज (मुद्रण व्यवसाय) की बेहतरी एवं ग्रोथ के लिए कार्य करने वाला अग्रणी संगठन ऑल इंडिया फेडरेशन ऑफ मास्टर्स प्रिंटर्स, के राष्ट्रीय स्तर के सेमिनार एवं 247वीं जनरल काउंसिल मिटिंग का दीप प्रज्ज्वलित कर कार्यक्रम का शुभारंभ करने के बाद अपने उदबोधन में कही। इस अवसर पर मंत्री पी सी शर्मा ने प्रकाशित स्मारिका का विमोचन भी किया। अपने उदबोधन में शर्मा ने इसी पुस्तक में बीएमपीए भोपाल के अध्यक्ष अशोक गुप्ता के मैसेज  की तारीफ करते उनकी कथन को पढ़ा। शर्मा ने कहा कि राजनेता व प्रिंटिंग का चोली दामन का साथ रहा है। पर इतने नजदीक भारत के हर क्षेत्र के मास्टर प्रिंटर से पहली बार मुलाकात हो रही है। इस अवसर पर शर्मा ने आदर प्रिंटिंग लिमिटेड द्वारा निर्मित दुनिया की पहली टॉकिंग गीता के द्वितीय सं

हम फादर जाति के लोग!

Image
साँच कहै ता 👍.......................... जयराम शुक्ल हम साल में दो बार मातृशक्ति का पर्व नवदुर्गा मनाते हैं। अबोध कुँवारी कन्याओं को साक्षात देवी का अवतार मानकर पूजते हैं।  साल में एक दिन जब मदर्स डे मनाते हैं तब सोशल मीडिया में मातृभक्ति का ऐसा उफान आता है जैसे कि विह्रलता के आंसू सारी कायनात को भिगो दे। माँ की महिमा का वर्णन ऋग्वेद काल से ही चला आ रहा है। जननी जन्म भूमिश्च, स्वर्गादपि गरीयसी। धरती माता जहां हम जन्में हैं वह स्वर्ग से भी महान है। जो हमें जन्म देती है वह तो मां है ही जो पालती और पोषती है, मोक्ष देती है वे भी माताएं हैं यथा मातृभूमि, गोमाता, गंगा मैय्या।  हमारे देश में सभी ऐश्वर्य वैभव माँ के साथ जुड़े हैं। ज्ञान की देवी माँ सरस्वती, धन की देवी माँ लक्ष्मी, शक्ति की देवी माँ दुर्गा। सनातन से यह भी सुनते आ रहे हैं कि जहां स्त्रियों की पूजा होती है वहीं देवता रमते हैं। यानी की समूचा देश, हमारा परिवेश मातामयी है, ममतामयी है। माता हमारी  प्रथम गुरू है। रिश्तों पर देखें तो सबसे ज्यादा साहित्य माँ पर ही लिखा गया, गीत,कविताएं, कहानियां, नाटक। सबसे ज्यादा फिल्में माँ पर आधार

बंदूक के हवाले नहीं कर सकते न्याय व्यवस्था

Image
बात पते की/ श्रुति कुशवाहा ऐसे जघन्य अपराधों पर हर बार गुस्सा उमड़ता है, मन खौलता है और उस भावावेश में अक्सर ये ख़याल भी जन्म लेता है कि ऐसे अपराधियों को सरेआम गोली मार देनी चाहिये, फाँसी दे देनी चाहिये.. लेकिन ये क्षणिक उबाल है..एक सभ्य समाज में न्याय व्यवस्था बंदूक के हवाले नहीं की जा सकती। अदालती कार्यवाही, जांच प्रक्रिया, न्यायप्रणाली को दुरुस्त करने की ज़रूरत है। फास्ट ट्रैक कोर्ट और मामलों के जल्द निपटारे की ज़रूरत है। ये एक ग़लत परिपाटी की शुरुआत है। अगर पुलिस ही एनकाउंटर के नाम पर फैसले करने लगेगी तो वो दिन दूर नहीं जब अपराध साबित हुए बिना ही सज़ा तय कर दी जाएगी, और इसमें जाने कितने निरपराधी भी मारे जाएंगे।  यहां दोषियों के साथ कोई सहानुभूति नहीं है..लेकिन आज मनाया जा रहा जश्न दरअसल हमारी न्याय व्यवस्था की नाकामी का जश्न है। ये बंदूक की जीत का जश्न है। हम अविश्वास भरे समय में और अविश्वास से भरते जा रहे हैं। यहां मैं एनकाउंटर की सत्यता की बात तो कर ही नहीं रही कि कैसे चारों निहत्थे आरोपी भाग निकलने का मौका पा गये, कैसे पुलिस टीम एक को भी जीवित नहीं पकड़ पाई, कैसे वहां सुरक्षा व्यवस्

संध्या मिश्रा की कविता-मैं और तुम

Image
मैं नहीं तुम  मै अल्हड़ बहती सी सरिता पर तुमने बाँध बनाए क्यों मै अर्द्ध निशा का चंचल तारा तुम मार्गदर्श बन आये क्यों मै नीलगगन की गौरैया  तुम जाल बिछा कर आये क्यों मै वीत राग की स्वछंद स्वरा तुम बहर बीच में लाये क्यों मै नए गीत का नवल छंद तुम शब्द खींच कर लाये क्यों मै स्वप्न लोक की परिकथा तुम स्वप्न तोड़ते आये क्यों मै जोगन नहीं कापाला संग तुम शमशान मुझे ले आये क्यों मै जीवन की थी भरी उमंग तुम काल मेरा बन आये क्यों। संध्या मिश्रा, भोपाल

मंत्री इमरती देवी का महिलाओं को सुझाव, घूंघट छोड़ो और जिम्मेदारी निभाओ

Image
मंत्री बोली, पतियों से कहो आप घर बैठो, हमें अपना काम संभालने दो शिवपुरी। मध्य प्रदेश की महिला एवं बाल विकास मंत्री इमरती देवी ने महिलाओं को सलाह दी है। सलाह ये है कि वो अपने घर के पुरुषों से दबे नहीं। अपने काम पर निकलें। घूंघट छोड़ो और अपनी जिम्मेदारी निभाओ। शिवपुरी में बिटिया सम्मान समारोह था। मध्य प्रदेश की महिला एवं बाल विकास मंत्री इमरती देवी मुख्य अतिथि थीं। इस समारोह में वो बिटिया की रक्षा करने का संकल्प दिलाने आयी थीं। उन्होंने वहां मौजूद लोगों को संकल्प दिलाया कि वो बेटियों की रक्षा करेंगे। उन्हें पढ़ाएंगे-लिखाएंगे। बेटी के जन्म पर भी वैसे ही जश्न मनाएंगे जैसा बेटा होने पर मनाते हैं।  महिलाओं घूंघट छोड़ो: इसी समारोह में इमरती देवी ने महिलाओं को सुझाव दे डाला कि वो अपनी संकोच और पर्दा छोड़ें। घूंघट छोड़कर काम पर निकलें। इमरती देवी ने महिला जन प्रतिनिधियों को सुझाव दिया कि जब आप चुनकर आयी हैं तो अपने घर के पुरुष सदस्यों से कहिए कि अब आप घर में बैठो। हमें अपना काम संभालनें दें। अगर उनके कहने पर आप घर में घूंघट में बैठी रहोगी तो कुछ नहीं कर पाओगी। संकल्प के दौरान अटकीं: महिल

हम अपने बच्चों को अच्छे संस्कार दें : प्रतिभा

Image
आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं ने लिया संकल्प, दरिंदों को सरकार से सजा दिला कर रहेंगे ललितपुर। देश में हो रहे बेटियों के साथ अत्याचारों का विरोध करते हुए ललितपुर जनपद की समस्त आंगनवाड़ी बहनों ने यह कसम खाई है कि हम अत्याचारी दरिंदों को सरकार से सजा दिलाकर रहेंगे। हर बेटी की रक्षा करना समाज के नाते हमारा भी कर्तव्य बनता है। हम अपने बच्चों को अच्छे संस्कार दें। उक्त विचार प्रकट करते हुए आंगनबाड़ी कार्यकर्ता महासंघ की जनपद ललितपुर जिला अध्यक्ष प्रतिभा कौशिक ने कहा कि एनकाउंटर में मारे गए उन चारों दरिंदों को जिससे उस बेटी को इंसाफ मिल गया उस पुलिस भाई को हम सभी बहने बहुत-बहुत धन्यवाद देते हैं । प्रतिभा कौशिक ने कहा कि अपराध को रोकना हम सभी लोगों का मौलिक कर्तव्य बनता है। हमारी सभी बहनों ने शपथ ली है कि हम अपनी बेटियों की रक्षा स्वयं करेंगे और उन्हें इतना जागरूक करेंगे कि वह मैं स्वयं अपनी रक्षा कर सकें । प्रतिभा ने कहा कि नारी शक्ति हमेशा जिंदाबाद है, थी और रहेगी। उन्होंने कहा कि उनको रानी लक्ष्मीबाई, मां दुर्गा, मां चंडी बनाएंगे और राक्षसों का वध वह स्वयं करेंगी। 

पटोरा कला में नेत्र शिविर का आयोजन

Image
सभी प्रकार की जांच फ्री, मोतियाबिंद से पीड़ित का कराया ऑपरेशन ललितपुर। जनपद के ग्राम पटोरा कला में निःशुल्क नेत्र शिविर का आयोजन किया गया, जिसमें सभी ग्राम वासियों की आंखों की जांच की गई । लायंस क्लब की तरफ से यहां सभी प्रकार की जांच फ्री में करवाई गई। जांच के दौरान जिस मरीज को  मोतियाबिंद की परेशानी थी उनके लिए तुरंत एंबुलेंस बुलाकर हॉस्पिटल ले जाया गया जहां उनके आंखों का ऑपरेशन करवाया गया। जिस आंगनबाड़ी केंद्र पर निःशुल्क नेत्र शिविर लगाया गया था, उसमें ग्राम प्रधान उमा शंकर चौबे, आंगनबाड़ी कार्यकर्ती प्रतिभा कौशिक,  प्राइमरी विद्यालय की प्रधानाध्यापिका ममता जैन एवं सभी सहाय, सभी सहायक अध्यापकों ने भाग लिया और गांव के लोगों का सहयोग किया। इस दौरान सभी ग्रामवासियों की आंखों की मुफ्त जांच हुई तथा  जिसको जो परेशानी थी फ्री दवा दी गई । विशाल नेत्र शिविर के आयोजन से गांव के लोगों में एक उत्साह सा दिखाई दिया। लायंस क्लब और आंगनबाड़ी तथा स्कूल स्टॉफ की सभी ग्राम वासियों ने  सहारना की। 

दे ताल-भोपाल: अब बोट क्लब पर होंगी हेल्थ एण्ड क्लीन एक्टिविटी

Image
15 दिसंबर से हर सण्डे सुबह 6 से 8 बजे तक कीजिए इंजॉय भोपाल। अगले रविवार यानि 15 दिसंबर से हर सण्डे बोट क्लब पर हेल्थ एण्ड क्लीन एक्टिविटी होंगी। सुबह 6 से 8 बजे तक फुटबॉल, गली क्रिकेट, बैडमिंटन, पिट्टू, फ्रिस्बी, रस्सीखेंच (टग ऑफ वॉर) म्यूजिकल चेयर, रस्सीकूद, स्केटिंग, साईकिलिंग के अलावा फिटनेस के लिए जुम्बा, एरोबिक्स और योगा होगा। नगर निगम आयुक्त विजय दत्ता ने इस पूरे प्रोग्राम के बारे में शनिवार को मीडिया से चर्चा करते हुए बताया कि दे ताल-भोपाल के नाम से हर रविवार बोट क्लब पर इस तरह के आयोजन होंगे। नगर निगम सहित बीसीएलएल और ट्राफिक पुलिस की मदद से 15 दिसंबर से इसकी शुरूआत की जा रही है। नगर निगम आयुक्त विजय दत्ता ने जानकारी देते हुए बताया कि शहर के लोगों को स्वच्छता के प्रति जागरूक करना, पर्यावरण संरक्षण, लोगों में मेल-मिलाप, अच्छा सामाजिक सौहार्द बनाना, स्वास्थ्य, खेलों, साईकिलिंग, वॉकिंग और व्यायाम के प्रति लोगों को प्रोत्साहित करने के उद्देश्य से दे ताल-भोपाल कार्यक्रम की शुरूआत की जा रही है। इस आयोजन में ट्रैफिक पुलिस लोगों को सड़क सुरक्षा की जानकारी और मार्गदर्शन भी देगी। दे

अधीर न हो, कमलनाथ सरकार सबकी सरकार है, सबकी सुनेगी

Image
मध्यप्रदेश में 15 वर्षों बाद सत्ता में परिवर्तन हुआ है। पिछली सरकार भाजपा से जुड़े अधिकारियों दलालों और नेताओं के इर्द गिर्द थी। शिवराज सरकार को कांग्रेस नीत यूपीए सरकार के सरदार मनमोहन सिंह ने दिल खोल कर पैसा दिया। वो पैसा विकास पर कम और भ्रष्टाचार की भेंट ज्यादा चढ़ा। नही तो क्या कारण है कि शिवराज सिंह चौहान पूरे प्रदेश में घूम घूम कर गरीबों और किसानों को न्याय दिलाने की बात करते फिर रहे हैं। वे अपने गिरेबां में झांकते क्यों नही, क्यों नही वे अपनी आत्मा से पूछते कि उन्होंने 15 साल प्रदेश के विकास के लिए क्या किया? क्योंकि कुछ किया होता तो विपक्ष में रहने के बाद खुद को भी वो "स्वर्णिम विकास" दिखाई तो देता। योजनाओं का पैसा जनता के हितों में न लगकर सिर्फ एक ही विचारधारा के लिए खर्च होता था। पटवारी चेहरा देखकर किसानों के नुकसान का सर्वे करते थे। यहां तक कि जिन गांवों से बीजेपी को वोट नही मिलता था उनमें से कई गांवों के पानी और बिजली के कनेक्शन काट दिए गए। जो लोग कांग्रेस को समर्थन दे रहे थे वे सभी उपेक्षित रहे। लेकिन वे अडिग रहे डरे नही उनके व्यवसाय खत्म हो गए लेकिन झुके नही उन्ह

महाराष्ट्र में शिवसेना ने धोखाबाजी की और कांग्रेस ने जनमत को ठगा : शाह

Image
महाराष्ट्र की महाभारत के बाद भाजपा अध्यक्ष और गृहमंत्री अमित शाह ने पहली बार खुलकर कहा है कि अजित पवार के साथ जाकर भाजपा ने कोई गलती नहीं की बल्कि शिवसेना ने पूरे महाराष्ट्र की जनता को धोखा दिया है।  नई दिल्ली।   एजेंडा झारखंड कार्यक्रम में एक निजी चैनल को दिए गए इंटरव्यू में अमित शाह ने तमाम विवादस्पद मुद्दों पर खुलकर जवाब दिए। राम मंदिर पर सुप्रीम कोर्ट का फैसला, अर्थव्यवस्था में कमजोरी, गांधी परिवार से एसपीजी सुरक्षा हटाने जैसे सभी मामलों पर शाह ने बेबाक सवालों के दो टूक जवाब दिए।  गृहमंत्री के मुताबिक मोदी जी की अगुआई में मौजूदा सरकार सभी चुनौतियों से निपटने में सक्षम है और आगे कई बड़े फैसले लिए जाएंगे।  -महाराष्ट्र में लगे झटके से पार्टी पर कितना असर हुआ है। अमित शाह : वहां जो हुआ वो साफ साफ शिवसेना की धोखेबाजी है। महाराष्ट्र में भाजपा-शिवसेना गठबंधन ने मिलकर चुनाव लड़ा और जितनी सीटों पर भाजपा लड़ी उनमें 70 परसेंट सीटों पर जीत हासिल की। जबकि शिवसेना को सिर्फ 44 परसेंट सीटें ही मिली। महाराष्ट्र में भाजपा-शिवसेना को मोदी जी के नाम पर वोट मिले। अजित पवार मामले में भी हमने विचा

पॉलीथिन बेचने पर नगर निगम ने लगाया 2 लाख का जुर्माना 

Image
देश की सबसे बड़ी कार्रवाई, फ्लाईंग स्क्वाड शहर के गोदामों की करेगी जांच भोपाल। पॉलीथिन बेचने वालों के खिलाफ नगर निगम का शहर में अभियान जारी है। बुधवार को निगम ने 2 लाख रूपए का जुर्माना पॉलीथिन बेचने वाले व्यापारी पर लगाया है। यह कार्रवाई देश की सबसे बड़ी बताई जा रही है। इससे पहले किसी भी राज्य में इस तरह इतनी राशि का जुर्माना नहीं लगाया गया। निगम आयुक्त विजय दत्ता के निर्देश पर हाल ही में निगम की फ्लाईंग स्क्वॉड ने 12 टन पॉलीथिन जप्त की थी। इसी व्यापारी पर निगम ने यह जुर्माना लगाया है। प्रतिबंधित पॉलीथिन बेचने वालों सहित भंडारण करने वालों के खिलाफ नगर निगम अभियान चला रहा है। इसी के तहत 28 नवंबर को निगम के फ्लाईंग स्क्वॉड प्रभारी अजय श्रवण ए एच ओ शाहब खान के नेतृत्व में 12 टन पॉलीथिन न्यू ट्रेडर्स से जप्त की थी। प्रदेश के इतिहास में यह सबसे बड़ी कार्रवाई थी। बुधवार को न्यू ट्रेडर्स के प्रोपराईडर पंकज खूबचंदानी पर पॉलीथिन का विक्रय करने व भारी मात्रा में भंडारण करने के मामले में 2 लाख रूपए का जुर्माना लगाया गया। फ्लाईंग स्क्वॉड ने जुर्माने की राशि का चैक भी श्री खूबचंदानी से ले लिया