मोदी की टिप्पणी से भाजपा नेताओं के अमर्यादित आचरण पर लगी मुहर

- छह माह से हर छोटी-बड़ी घटना में भाजपा से जुड़े लोगों के नाम, भाजपा सभी को बाहर का रास्ता दिखाये


भोपाल। मध्यप्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष के मीडिया समन्वयक नरेंद्र सलूजा ने कहा कि भाजपा व उससे जुड़े लोग के लोग मध्यप्रदेश में निरंतर कानून व्यवस्था को चुनौती दे रहे हैं, खुलेआम गुंडागर्दी कर रहे हैं।हर छोटी-बड़ी अपराधिक घटनाओ के पीछे भाजपा व उससे जुड़े नेताओं के ही नाम सामने आ रहे हैं। प्रदेश की 6 माह की कांग्रेस सरकार में ज्यादातर अपराधिक घटनाओं में भाजपा से जुड़े लोगों के नाम सामने आये हैं। शांति के टापू मध्य प्रदेश को यह लोग अशांत बनाना चाह रहे हैं।प्रदेश की 6 माह की कांग्रेस सरकार लगातार प्रदेश पर भाजपा सरकार के समय से लगे, बढ़ते अपराधों के दाग को धोने की दिशा में काम कर रही हैं। लेकिन लगातार भाजपा के लोग ही कानून व्यवस्था को चुनौती देकर प्रदेश को बदनाम करने का कार्य कर रहे है। एक तरफ यह लोग कानून व्यवस्था को निरंतर चुनौती दे रहे हैं, वहीं दूसरी तरफ कानून व्यवस्था को लेकर झूठे राजनीतिक आंदोलन भी यही लोग कर रहे हैं।


मोदी की टिप्पणी को सार्थक करे भाजपा 


सलूजा ने कहा कि मोदी की टिप्पणी के बाद भाजपा नेतृत्व को तत्काल इन सभी लोगों को पार्टी से बाहर का रास्ता दिखाना चाहिए और इनका समर्थन करने वाले नेताओं पर भी कड़ी कार्रवाई करना चाहिए। तभी लगेगा कि मोदी कि कल संसदीय बोर्ड में की गई टिप्पणी सार्थक है, अन्यथा उनकी यह टिप्पणी भी पूर्व की तरह हवा-हवाई साबित होगी।


हर घटना में भाजपाई 


सलूजा ने कहा कि चाहे मंदसौर का प्रह्लाद बंधवार हत्याकांड हो या बड़वानी का मनोज ठाकरे हत्याकांड या रतलाम का हिम्मत पाटीदार कांड हो या चित्रकूट के दो मासूम बच्चों के अपहरण की बात हो, इन सभी घटनाओं में भाजपा व भाजपा से जुड़े लोगों के नाम इन घटनाओं को लेकर सामने आए हैं। वही नरसिंहपुर के गोटेगांव में भाजपा के केंद्रीय मंत्री प्रह्लाद पटेल व पूर्व मंत्री जालम पटेल के पुत्र की खुलेआम गोली चालन की घटना हो या हरदा के भाजपा विधायक कमल पटेल के पुत्र की गुंडागर्दी की घटना हो या इंदौर में भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय के विधायक पुत्र आकाश विजयवर्गीय की बल्लेबाजी की घटना हो या सतना के रामनगर परिषद् के अध्यक्ष राम सुशील पटेल की वहाँ के सीएमओ को पीटने की घटना हो या दमोह के भाजपा युवा मोर्चा के उपाध्यक्ष विवेक अग्रवाल द्वारा नगरपालिका कार्यालय में बेट लेकर अधिकारियों को पीटने की धमकी देने की घटना हो,यह सब घटनाएं बता रही हैं कि किस प्रकार भाजपा के जिम्मेदार लोग खुलेआम गुंडागर्दी कर रहे हैं । प्रदेश में भय का माहौल फैला रहे हैं और क़ानून व्यवस्था को निरंतर चुनौती दे रहे है। वही ये लोग ही क़ानून व्यवस्था को लेकर झूठे राजनैतिक आंदोलन कर प्रदेश की कांग्रेस सरकार की छवि बिगाड़ने का प्रयास कर रहे है। मोदी की टिप्पणी के बाद इन सभी लोगों पर व इनका समर्थन करने वालों पर कड़ी कार्यवाही भाजपा नेतृत्व को करना चाहिये। मोदी की टिप्पणी से भी यह साबित हो गया है कि अहंकार व घमंड में भाजपा के लोग ही अमर्यादित व दुर्व्यवहार वाला आचरण कर रहे है।


Comments

Popular posts from this blog

मंत्री भदौरिया पर भारी अपेक्स बैंक का प्रभारी अधिकारी

"गंगाराम" की जान के दुश्मन बने "रायसेन कलेक्टर"

भोपाल, उज्जैन और इंदौर में फिर बढ़ाया लॉकडाउन