राजस्व निरीक्षक के तबादले पर भिड़े मंत्री और पूर्व विधायक


एक दूसरे पर लगाये गंभीर आरोप, प्रभारी मंत्री के कहने पर हुई थी बैठक


भोपाल । ग्वालियर के प्रभारी मंत्री उमंग सिंघार के कहने पर भोपाल में तबादलों को लेकर आयोजित बैठक में खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर तथा ग्वालियर के पूर्व विधायक मुन्नालाल गोयल के बीच जमकर विवाद हुआ। इस दौरान दोनों ने एक-दूसरे पर गंभीर आरोप भी लगाए। मामला बिगड़ता देख मंत्री लाखन सिंह ने हस्तक्षेप कर दोनों को शांत कराया।
इस बैठक को तबादलों पर निर्णय के लिए बुलाया गया था। सभी अपनी-अपनी तबादला सूची लेकर बैठक में पहुंचे थे। पार्टी सूत्रों के अनुसार जैसे ही एक राजस्व निरीक्षक के तबादले पर चर्चा हुई तो इसी बात को लेकर विवाद हो गया। तोमर ने मुन्नालाल पर आरोप लगाया कि वे क्षेत्र के सिंधिया समर्थक कार्यकर्ताओं की अनदेखी कर रहे हैं। मैं सिंधिया का सिपाही हूं, उनके समर्थकों के साथ अन्याय नहीं होने दूंगा। इस पर मुन्नालाल ने कहा कि वे मेरे क्षेत्र में अनावश्यक हस्तक्षेप कर रहे हैं। इसके अलावा जब कुछ और आरोप लगाए गए तो मामला बहुत गरम हो गया था, स्थिति बिगड़ती देख लाखन सिंह ने स्थिति को संभाला। इस संबंध में जब विधायक मुन्नालाल से चर्चा की तो उनका कहना था यह बैठक ग्वालियर की सडक़, बिजली और पानी की समस्या को लेकर आयोजित की गई थी। बैठक में कोई विवाद नहीं हुआ है। बैठक में स्थानांतरणों पर भी चर्चा की गई। इस बैठक में मंत्री इमरती देवी, विधायक प्रवीण पाठक, शहर जिलाध्यक्ष डॉ. देवेन्द्र शर्मा तथा ग्रामीण अध्यक्ष मोहन सिंह राठौर तथा अधिकारीगण उपस्थित थे।


Comments

Popular posts from this blog

मंत्री भदौरिया पर भारी अपेक्स बैंक का प्रभारी अधिकारी

"गंगाराम" की जान के दुश्मन बने "रायसेन कलेक्टर"

भोपाल, उज्जैन और इंदौर में फिर बढ़ाया लॉकडाउन