लालघाटी फ्लाईओवर की दीवार धँसकना भाजपा के भष्ट्राचार का सबूत


निर्माण में भ्रष्टाचार के जिम्मेदारों पर हो कड़ी कार्यवाही


भोपाल। मध्यप्रदेश कांग्रेस कमेटी मीडिया विभाग की अध्यक्ष शोभा ओझा ने कहा कि प्रदेश की राजधानी भोपाल में, लालघाटी से एयरपोर्ट जाने वाले मार्ग पर, भाजपा सरकार के कार्यकाल के दौरान नवनिर्मित फ्लाईओवर के दोनों ओर की दीवार का धंसक जाना, भाजपा सरकार और उसकी नगर निगम के भारी भ्रष्टाचार का जीवंत सबूत है। क्षेत्रीय नागरिक यदि जागरूक न होते तो जान-माल का बड़ा नुकसान हो सकता था।
भाजपा की पिछली प्रदेश सरकार पर उपरोक्त आरोप लगाते हुए श्रीमती ओझा ने कहा कि केन्द्र सरकार के ढाई सौ करोड़ के प्रोजेक्ट में, नेताओं और अधिकारियों द्वारा किये जा रहे भ्रष्टाचार का आलम क्या था, ये फ्लाईओवर का लोकार्पण होने के कुछ महीनों के भीतर, पहली बरसात में ही सामने आ गया है। इससे यह भी साबित हो गया है कि केन्द्र सरकार की संस्था एनएचएआई का क्वालिटी पर कितना कंट्रोल है। श्रीमती ओझा ने इस संदर्भ में आगे बताया कि क्षेत्रीय नागरिकों की जागरूकता से एक संभावित बड़ी दुर्घटना को रोका जा सका है। नागरिकों के अनुसार अब यह फ्लाईओवर बारिश की मार और ज्यादा नहीं झेल पाएगा। यह भी गौरतलब है कि निर्माण एजेंसी द्वारा सतर्कता नहीं बरते जाने के कारण, पहले भी तीन लोग यहां अपनी जान गंवा चुके हैं।
श्रीमती ओझा ने आगे कहा कि नागरिकों के जान-माल की परवाह किये बिना फ्लाईओवर के निर्माण में हुआ भारी भ्रष्टाचार, इस बात का एक जीवंत उदाहरण है कि भाजपा की पिछले पांच वर्षों की केन्द्र और 15 वर्षों की राज्य सरकारों ने, किस स्तर पर भ्रष्टाचार का तांडव मचाया और उसकी नगर निगमों ने, किस तरह जनता की जान-माल की परवाह को बला-ए-ताक पर रखा। श्रीमती ओझा ने प्रदेश सरकार से यह मांग की है कि पूरे भ्रष्टाचार की उच्चस्तरीय जांच कराई जाये और जनता की जान-माल से खिलवाड़ कर, अपना घर भरने वाले तत्कालीन मंत्रियों, नेताओं, सरकारी अधिकारियों सहित तमाम जिम्मेदारों पर अविलंब कठोर दंडात्मक केेआ की जाये।


Comments

Popular posts from this blog

मंत्री भदौरिया पर भारी अपेक्स बैंक का प्रभारी अधिकारी

"गंगाराम" की जान के दुश्मन बने "रायसेन कलेक्टर"

भोपाल, उज्जैन और इंदौर में फिर बढ़ाया लॉकडाउन