गमक में हुई कठपुतली नाटकों की प्रभावी प्रस्तुति


भोपाल । संस्कृति विभाग द्वारा मध्यप्रदेश जनजातीय संग्रहालय में आयोजित बहुविध कलानुशासनों की गतिविधियों एकाग्र ‘गमक’ श्रृंखला अंतर्गत आज आदिवासी लोककला एवं बोली विकास अकादमी द्वारा लक्ष्मण भारती, भोपाल द्वारा धागा पुतली शैली में ‘पुतुल प्रसंग’ एवं राजेश सांखला, इंदौर द्वारा ‘श्रीराम भजनावली’ की प्रस्तुति दी गई। राजस्थान के तेजाजी की कथा पर आधारित कठपुतली नाटक की प्रस्तुति में लक्ष्मण भारती एवं अन्य कलाकारों द्वारा झलकारी बाई का नृत्य, सपेरा नृत्य, जादूगर नृत्य, बहुरुपिया नृत्य, घुड़सवार नृत्य आदि बाल मनोरंजक नृत्य प्रस्तुत किये गए। अगली प्रस्तुति में सांखला द्वारा ‘श्री राम भजनावली’ में भजन प्रस्तुत किये। गतिविधियों का सजीव प्रसारण संग्रहालय के सोशल मीडिया प्लेटफार्म यूट्यूब http://bit.ly/culturempYT और फेसबुक पेज https://www.facebook.com/culturempbpl/live/ पर भी किया गया। शनिवार 21 नवम्बर, 2020 को सायं 6:30 बजे से ‘गमक’ के अंतर्गत उस्ताद अलाउद्दीन खां संगीत एवं कला अकादमी द्वारा कल्पना एवं अनुजा झोंकरकर, इंदौर द्वारा ‘व्याख्यान एवं गायन’ की प्रस्तुति होगी।


Comments

Popular posts from this blog

मंत्री भदौरिया पर भारी अपेक्स बैंक का प्रभारी अधिकारी

"गंगाराम" की जान के दुश्मन बने "रायसेन कलेक्टर"

भोपाल, उज्जैन और इंदौर में फिर बढ़ाया लॉकडाउन