बीमार कर्मचारी से मिलने पहुंचे रतन टाटा



मुम्बई। ये 83 वर्षीय रतन टाटा हैं । एक जीवित महानतम व्यवसायी  जो कि अपनी पूर्व कर्मचारी से मिलने के लिए पुणे में फ्रेंड्स सोसाइटी गए, जो इन दिनों बीमार चल रही थी। इसी तरह की घटनाओं से किंवदंतियां और समाज के लिए मिसाल बनाई जाती हैं। न कोई मीडिया, न कोई बाउंसर, न कोई तामझाम अकेले अपने मिलने जाना... वफादार कर्मचारियों के प्रति - प्रतिबद्धता हर कोई नही कर सकता । सभी उद्यमियों और व्यापारियों को इनसे ये सब सीखना बहुत आसान हैं कि ईमानदार कर्मचारियों और उनकी ईमानदारी की कद्र जरूर करे,ज़िन्दगी में पैसा ही सबकुछ नहीं है। सर रतन टाटा जी एक महान इंसान है।


Comments

Popular posts from this blog

मंत्री भदौरिया पर भारी अपेक्स बैंक का प्रभारी अधिकारी

"गंगाराम" की जान के दुश्मन बने "रायसेन कलेक्टर"

भोपाल, उज्जैन और इंदौर में फिर बढ़ाया लॉकडाउन