सामूहिक समन्वय से ही होती है लक्ष्य की प्राप्ति



 -प्रदेश अध्यक्ष और मुख्यमंत्री ने किया विधायक प्रशिक्षण वर्ग का शुभारंभ

भोपाल। भारतीय जनता पार्टी के विधायक प्रशिक्षण वर्ग में पार्टी नेतृत्व ने सामूहिक समन्वय के आधार पर लक्ष्य प्राप्ति का मंत्र विधायकों और प्रदेश पदाधिकारियों को दिया। प्रशिक्षण वर्ग का शुभारंभ करते हुए प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा और मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने विस्तार से विधायकों और पदाधिकारियों को उनकी कार्यपद्धति, रीति-नीति, लोकव्यवहार और सुचितापूर्ण जीवन की दिशा में महत्वपूर्ण जानकारी दी।
प्रशिक्षण वर्ग के शुभारंभ सत्र की अध्यक्षता गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने की। इससे पूर्व मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान, प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा, प्रदेश सहप्रभारी पंकजा मुंडे, प्रदेश संगठन महामंत्री सुहास भगत, प्रदेश सह संगठन महामंत्री हितानंद शर्मा, केंद्रीय मंत्री प्रहलाद पटेल, सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया, केंद्रीय मंत्री फग्गनसिंह कुलस्ते, राष्ट्रीय मंत्री ओमप्रकाश धुर्वे आदि ने दीप प्रज्जवलन कर वर्ग का शुभारंभ किया।

सामूहिक समन्वय से करें देश विरोधी शक्तियों को परास्तः शर्मा

उद्घाटन सत्र को संबोधित करते हुए प्रदेश अध्यक्ष व सांसद विष्णुदत्त शर्मा ने कहा कि हम सब एक विचार के प्रतीक हैं। विचार के आधार पर ही अपने लक्ष्य की प्राप्ति के लिए आगे बढ़ रहे हैं। श्री शर्मा ने कहा कि आज प्रदेश का जो परिदृश्य है और आपके क्षेत्र की जो परिस्थितियां हैं, हमें उन सभी का चिंतन करने की हमें आवश्यकता है। क्योंकि एक ओर तो हम दिन-रात परिश्रम करके देश, प्रदेश और समाज के उत्थान का प्रयास कर रहे हैं, दूसरी ओर ऐसी तमाम शक्तियां हम पर चौतरफा हमला कर रही हैं, जो भारत को आगे बढ़ते देखना नहीं चाहतीं। हमें सामूहिक समन्वय से ऐसी शक्तियों को परास्त करना है। इस सामूहिक समन्वय का अर्थ है, कि अपनी सरकारों के काम को समाज तक ले जाएं, कार्यकर्ता की मेहनत का सम्मान करें और आपस में शुद्ध सात्विक संबंधों का निर्माण करें। उन्होंने कहा कि हमारे कारण समाज में सकारात्मक परिवर्तन दिखाई देगा, तभी यह माना जाएगा कि हमारी भी कोई भूमिका है। उन्होंने कहा कि प्रतिकूलता में संघर्ष से आगे बढ़ा जा सकता है लेकिन अनुकूलता में हमारे कारण प्रतिकूलता खड़ी न हो, इसके लिए विनम्रता की आवश्यकता होती है। हमारा समन्वय और विचारधारा हमारी सफलता का आधार है और इसे स्थायित्व देने के लिए ही इस प्रकार के प्रशिक्षण वर्गों का आयोजन किया जाता है। प्रदेश अध्यक्ष ने समर्पण दिवस पर आजीवन सहयोग निधि की दिशा में प्रदेश भर में हुए प्रयासों की सराहना की।

पार्टी रूपी दीपक की चमक बढ़ाने वाला कांच है कार्यकर्ताः शिवराज

उद्घाटन सत्र को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि महाकाल की नगरी ज्ञान, भक्ति और प्रेम का संगम है और भारतीय जनता पार्टी की कार्यपद्धति में अपने पुरखों का ज्ञान, भारतमाता की भक्ति और कार्यकर्ताओं के बीच प्रेम के संबंध ही हमारे कार्य को आगे बढ़ाते हैं। श्री चौहान ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी अंधकार में प्रकाश फैलाने के लिए दीपक की भूमिका निभाने वाला दल है। पार्टी रूपी दीपक के प्रकाश में बढ़ोत्तरी करने और उसे तेज हवाओं से बचाने के लिए जो कांच लगया जाता है, वह भारतीय जनता पार्टी का कार्यकर्ता है। जिस प्रकार से दीपक के कांच को बार-बार साफ करना पड़ता है, ठीक उसी प्रकार से प्रशिक्षण वर्गों में कांच रूपी कार्यकर्ता को प्रशिक्षित करके उसे और पारदर्शिता एवं प्रमाणिकता के साथ काम करने के लिए तैयार किया जाता है। उन्होंने कहा कि समाज जीवन में काम करते करते कई प्रकार के विषय हमारे सामने आते हैं, जो कई प्रकार के विचार भी पैदा करते हैं। इसलिए एक दिशा बनाए रखना प्रशिक्षण वर्गों की मूल भावना होती है।
अपने दायित्व समझें, कार्यकर्ताओं से स्नेह करें मुख्यमंत्री श्री चौहान ने विधायकों से कहा कि आप गहराई के साथ प्रदेश की सामाजिक और राजनीतिक स्थिति का अध्ययन कीजिए, अपने विचार परिवार को समझिए और इस बात पर चिंतन कीजिए कि समाज ने आपको जनप्रतिनिधि चुना है, तो आपके सामाजिक दायित्व क्या हैं? हमें इस बात पर गर्व है कि हम उस दल के विधायक हैं, जिसकी प्रेरणा राष्ट्रवाद है, लक्ष्य अंत्योदय है और मंत्र सुशासन है। हम सभी को मिलकर एक गौरवशाली, वैभवशाली, समृद्धशाली और शक्तिशाली भारत का निर्माण करना है। श्री चौहान ने कहा कि भाजपा का कार्यकर्ता बड़े लक्ष्य के लिए बना है, इसलिए विधायकों को इस बात का हमेशा ध्यान रखना चाहिए कि जो कार्यकर्ता विचार के लिए लड़ता है और आपको विधायक बनाने के लिए संघर्ष करता है, उसके प्रति स्नेह और सम्मान में कोई कमी न आये।

भाजपा के सुशासन के कारण भारत का लोहा मान रही दुनिया

मुख्यमंत्री ने अपने भाषण के दौरान अटल जी द्वारा किए गए परमाणु परीक्षण और चीन सीमा पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साहस और सूझबूझ का उल्लेख करते हुए कहा कि आज दुनिया भाजपा के सुशासन के कारण भारत के पराक्रम का लोहा मान रही है। धारा-370, राम मंदिर, सीएए और तीन तलाक जैसे अविश्वसनीय लगने वाले काम पूरे हो चुके हैं। कोरोना काल में हमारे नेतृत्व की क्षमताओं का लोहा दुनिया मान रही है। उन्होंने पार्टी के आधार नेतृत्व को नमन करते हुए कहा कि हम उनके मार्ग पर मिशन की भांति चल रहे हैं और अपने देश को स्वाबलंबी बनाने में जुटे हैं।

सजग रहकर काम करें विधायकः डॉ. मिश्रा

उद्घाटन सत्र की अध्यक्षता करते हुए डॉ. नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि हम जिस कार्यक्षेत्र में हैं, उसका संपूर्ण ज्ञान हमें होना चाहिए। हमारी हर गतिविधि को समाज देखता है। इसलिए विधायकों को सजग रहकर काम करने की आदत होना चाहिए। डॉ. मिश्रा ने कहा कि विषय का अध्ययन करना और सदन में उसका व्यवस्थित प्रस्तुतिकरण करने से हमारे व्यक्तित्व में निखार आता है और समाज में सजग जनप्रतिनिधि के रूप में जाने जाते हैं। इसलिए खूब काम करिए, लेकिन काम का ब्यौरा अपने क्षेत्र तक पहुंचे इसकी भी व्यवस्था कीजिए। उन्होंने कहा कि हम वैचारिक रूप से मजबूत संगठन के प्रतिनिधि हैं इसलिए हमें पूरी दृढ़ता से काम करने की आवश्यकता है। द्वितीय सत्र की अध्यक्षता केंद्रीय मंत्री प्रहलाद पटेल ने की। अतिथि के रूप में ज्योतिरादित्य सिंधिया उपस्थित रहे। संगठन महामंत्री सुहास भगत ने प्रशिक्षण वर्ग में ‘समन्वय-जनप्रतिनिधियों के साथ, संगठन के साथ’ विषय पर मागदर्शन दिया।

Comments

Popular posts from this blog

मंत्री भदौरिया पर भारी अपेक्स बैंक का प्रभारी अधिकारी

"गंगाराम" की जान के दुश्मन बने "रायसेन कलेक्टर"

भोपाल, उज्जैन और इंदौर में फिर बढ़ाया लॉकडाउन